विजय हजारे ट्रॉफी के दूसरे सेमीफाइनल मुकाबले में दिनेश कार्तिक की अगुवाई वाली तमिलनाडु की टीम ने गुजरात पर जीत दर्ज की. बारिश के चलते मैच को घटाकर 40-40 ओवरों का कर दिया गया था. तमिलनाडु की टीम अब 25 अक्‍टूबर को दूसरे सेमीफाइनल मैच की विजेता कर्नाटक के खिलाफ खिताबी मुकाबले में उतरेगी.

पढ़ें:- Vijay Hazare: राहुल-मयंक की धमाकेदार पारियों से कर्नाटक ने बनाई फाइनल में जगह

गुजरात की टीम ने निर्धारित 40 ओवरों में नौ विकेट पर 177 रन बनाए. तमिलनाडु ने एक ओवर रहते इस लक्ष्‍य को हासिल कर लिया.

गुजरात की टीम शुरू में पार्थिव पटेल और प्रियांक पांचाल के आउट होने से लगे झटकों से नहीं उबर सकी और निर्धारित 40 ओवर में नौ विकेट पर 177 रन ही बना सकी.

भारतीय ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन दक्षिण अफ्रीका के साथ तीन टेस्ट मैचों की सीरीज (जिसे भारत ने 3-0 से जीता) समाप्त होने के बाद तमिलनाडु से जुड़े और उन्होंने पहला झटका पांचाल के रूप में दिया. उन्होंने अपने आठ ओवर में 21 रन देकर एक विकेट चटकाया.

पढ़ें:- रोहित बने टेस्‍ट सीरीज में एक गेंदबाज के खिलाफ सर्वाधिक छक्‍के लगाने वाले बल्‍लेबाज

वाशिंगटन सुंदर ने पार्थिव को आउट कर गुजरात को बड़ा झटका दिया. ध्रुव रावल 40 रन बनाकर शीर्ष स्कोरर रहे जबकि अक्षर पटेल (37) और पुछ्ल्ले बल्लेबाज सी टी गजा (27) ने अहम योगदान दिये. तमिलनाडु के लिये एम मोहम्मद ने 33 रन देकर तीन विकेट चटकाये.

इसके जवाब में तमिलनाडु ने अपने अनुभवी और फॉर्म में चल रहे मुरली विजय का विकेट जल्दी गंवा दिया. बाबा अपराजित भी जल्दी पवेलियन लौट गये.

अभिनव मुकुंद (32 रन) और दिनेश कार्तिक (47 रन) ने मिलकर पारी को संभाला.

हालांकि लगातार तीन विकेट गिरने से तमिलनाडु की टीम दबाव में आ गयी जिसके बाद वाशिंगटन सुंदर (नाबाद 27) और एम शाहरूख खान (नाबाद 50) ने टीम को एक ओवर पहले जीत दिलायी.