भारतीय क्रिकेट टीम के सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा, शिखर धवन और केएल राहुल इस समय अच्छी लय में हैं. इन खिलाड़ियों ने अब टीम मैनेेेेेेेजमेंटके लिए मुश्किलें खड़ी कर दी है.  मैनेजमेंट के सामने अब ये स्थिति पैदा हो गई है कि वो इनमें से किसे टीम से ड्रॉप करे और किसे अंदर. Also Read - IND vs ENG: दो दिन में खत्म हुआ पिंक बॉल टेस्ट, Axar और Ashwin जीत के हीरो- भारत सीरीज में 2-1 से आगे

IPL से पहले इस ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी ने BBL इतिहास की खेली सबसे बड़ी पारी, बना डाले कई रिकॉर्ड Also Read - IND vs ENG: पिंक बॉल टेस्ट- Joe Root ने उखाड़े टीम इंडिया के पांव, 145 रन पर ढेर

बल्लेबाजी कोच विक्रम राठौड़ का मानना है कि टीम इंडिया की सलामी बल्लेबाजी में रोहित शर्मा, केएल राहुल और शिखर धवन के लय में होने से चयन को लेकर टीम मैनेजमेंट के लिए मुश्किल जरूर पैदा कर दी है लेकिन ये ‘अच्छी दुविधा’ है. Also Read - India vs England, 3rd Test Highlights: भारत ने 10 विकेट से जीता दूसरा टेस्ट मैच, सीरीज में बनाई 2-1 की बढ़त

रोहित के लिए साल 2019 शानदार रहा था जहां उन्होंने विश्व कप में पांच शतक लगाए थे.

धवन ने श्रीलंका के खिलाफ खेली गई टी20 सीरीज में वापसी करते हुए रन बनाकर लय में होने का संकेत दिया. राहुल भी पिछले कुछ समय से शानदार फॉर्म में चल रहे हैं.

यह दुविधा की स्थिति हमारे लिए अच्छी है’

राठौड़ ने कहा, ‘यह दुविधा की स्थिति हमारे लिए अच्छी है. रोहित जाहिर तौर पर इसके लिए सबसे मजबूत विकल्प है. वे दोनों (शिखर और राहुल) भी अच्छी बल्लेबाजी कर रहे हैं. शिखर ने एकदिवसीय में अच्छा प्रदर्शन किया है और राहुल शानदार लय में है. जब जरूरत होगी हम इससे निपटेंगे.’

उन्होंने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेले जाने वाले शुरूआती एकदिवसीय से पहले कहा, ‘ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ वनडे सीरीज शुरू होने में अभी दो दिनों का समय बचा है. प्रबंधन इस पर फैसला करेगा.’

हम ऑस्ट्रेलिया को किसी अन्य सीरीज की तरह ले रहे हैं’

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सीरीज 14 जनवरी से यहां शुरू होगी. दूसरा वनडे राजकोट में 17 जनवरी और तीसरा बेंगलुरू में 19 जनवरी को खेला जाएगा.

इस साल टी20 विश्व कप खेला जाना है ऐसे में इस एकदिवसीय सीरीज के औचित्य के बारे में पूछे जाने पर राठौड़ ने कहा, ‘यह अलग प्रारूप है और क्रिकेट आत्मविश्वास का खेल है. एक बल्लेबाज और गेंदबाज के तौर पर जब आप ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेलते हैं तो आपका प्रदर्शन मायने रखता है. उनकी टीम बेहतर है और उससे मनोबल बढ़ता है.’

NZ के खिलाफ हार पर धोनी ने तोड़ी चुप्‍पी, ‘आज भी खुद से सवाल पूछता हूं कि उस दिन मैंने…’

बल्लेबाजी कोच ने कहा, ‘हम इसे किसी अन्य सीरीज की तरह ले रहे हैं. दुनिया की बेहतरीन टीमों में से एक के खिलाफ जब आप खेलते हैं तो टीम के तौर पर अच्छा करने की सोचते हैं. आप शानदार प्रदर्शन कर जीत दर्ज करना चाहते हैं.’

हमने केएल राहुल को विकेटकीपिंग की भूमिका के बारे में अभी सोचा नहीं है’

राहुल विकेटकीपर की भूमिका भी निभा सकते हैं और राठौड़ से जब पूछा गया कि क्या टीम प्रबंधन उनके इस कौशल के उपयोग के बारे में सोच रहा है तो उन्होंने कहा, ‘हमने अभी इस बारे में सोचना शुरू नहीं किया है. राहुल कीपिंग कर सकते हैं. यह इस पर निर्भर करता है कि क्या टीम प्रबंधन को उनकी इस क्षमता की जरूरत है.’

राठौड़ ने कहा कि उन्हें टीम के मध्यक्रम में कोई कमी नहीं दिख रही है. उन्होंने कहा, ‘यह (मध्यक्रम) कोई कमजोरी नहीं है. कुछ मैच पहले हमने 383 रन बनाए थे. हम रन बना रहे हैं, हमारे बल्लेबाजों ने अच्छा प्रदर्शन किया है. श्रेयस (अय्यर) शानदार बल्लेबाजी कर रहे हैं. रिषभ (पंत) ने भी कुछ उपयोगी पारियां खेली है. इसलिए मुझे इसमें कोई समस्या नही दिख रही है.’

केदार जाधव के भविष्य पर फैसला करना चयनकर्ताओं का काम है’

राठौड़ से ऑलराउंडर केदार जाधव के भविष्य के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा यह फैसला करना चयनकर्ताओं का काम है.

उन्होंने कहा, ‘यह ऐसा मामला है जिससे चयनकर्ताओं को निपटना होगा. वह टीम में है. उसने पहले अच्छा प्रदर्शन किया है. उनका चयन इस बात पर निर्भर करता है कि टीम को क्या जरूरत है. केदार ने पिछले कुछ मैचों में गेंदबाजी नहीं की है क्योंकि तेज गेंदबाजों ने अच्छा प्रदर्शन किया है.’

टीम के अभ्यास सत्र के दौरान रोहित का अंगूठा चोटिल हो गया जिसके बाद उन्हें अभ्यास से ब्रेक लेना पड़ा. वह हालांकि बाद में फिर से नेट पर अभ्यास करते देखे गए.

ऑस्ट्रेलियाई टीम में मिशेल स्टार्क, पैट कमिंस, जोश हेजलवुड और केन रिचर्डसन जैसे विश्व स्तरीय तेज गेंदबाज है जिनके खिलाफ भारत की योजना पूछे जाने पर राठौड़ ने कहा, ‘हमारे सभी बल्लेबाजों ने उनके खिलाफ काफी खेला है. उन्हें इन गेंदबाजों के बारे में पता है. तो हमारी योजना उसी के मुताबिक होगी.’

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ वनडे सीरीज के बाद टीम इंडिया न्यूजीलैंड के लिए रवाना होगी जहां उसे टी-20, वनडे और टेस्ट मैचों की सीरीज खेलनी है.