मोनाको: शीर्ष पहलवान विनेश फोगाट प्रतिष्ठित लॉरियस विश्व खेल पुरस्कारों में नामांकित होने वाली पहली भारतीय खिलाड़ी बन गई हैं. ‘लॉरियस वर्ल्ड कमबैक आफ द ईयर’ कैटेगरी में उनका मुकाबला गोल्‍फर टाइगर वुड्स सहित अन्‍य एथलीटों से है. इन पुरस्‍कारों का आयोजन 18 फरवरी को किया जाएगा.

चौबीस साल की इस पहलवान ने चोट के कारण लंबे समय बाद शानदार वापसी करते हुए गोल्ड कोस्ट राष्ट्रमंडल खेल और जकार्ता एशियाई खेलों में स्वर्ण पदक जीता था. उन्हें ‘लॉरियस वर्ल्ड कमबैक आफ द ईयर (साल में वापसी करने वाली सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी)’ की श्रेणी में नामांकित किया गया है.

पांड्या-राहुल को दोबारा मौका देने के पक्ष में हैं सौरव गांगुली, कहा- गलतियां सबसे होती हैं

हरियाणा की इस पहलवान को 2016 ओलंपिक खेलों की 50 किग्रा फ्रीस्टाइल स्पर्धा के क्वार्टरफाइनल के दौरान घुटने के जोड़ में चोट लगने के बाद स्ट्रेचर में लिटाकर बाहर ले जाया गया था. उन्हें अमेरिकी टूर चैम्पियनशिप के विजेता गोल्फर टाइगर वुड्स के साथ इसमें नामांकित किया गया है जिन्होंने पांच साल के बाद अपना पहला टूर्नामेंट जीता है. इनके अलावा जापान के फिगर स्केटर युजुरू हानयू, कनाडा के स्नोबोर्डर मार्क मैकमोरिस, अमेरिका के महान स्की रेसर लिंडसे वोन और नीदरलैंड के पैरालंपिक चैम्पियन बिबियन मेंटल स्पी को भी इसमें नामांकित किया गया है.

IPL: राजस्थान रॉयल्स की फ्रेंचाइजी अपनी आधी हिस्‍सेदारी बेचने की तैयारी में

पिछली बार भारतीय खेलों ने 2004 लॉरियस विश्व खेल पुरस्कारों में तब यह उपलब्धि हासिल की थी जब भारतीय क्रिकेट टीम और पाकिस्तानी क्रिकेट टीम ने दोनों देशों के बीच राजनीतिक तनाव के बावजूद एक अंतरराष्ट्रीय मैच खेलकर ‘लॉरियस स्पोर्ट फॉर गुड अवॉर्ड’ साझा किया था. हाल में भारत की मैजिक बस ने 2014 में ‘लॉरियस स्पोर्ट फॉर गुड अवॉर्ड’ जीता था. हालांकि, विनेश ने इतिहास बनाया क्योंकि वह लॉरियस विश्व खेल पुरस्कारों की सात मुख्य श्रेणियों में से एक में नामांकित होने वाली पहली भारतीय एथलीट बनी हैं.