सेंचुरियन. कप्तान विराट कोहली के शानदार शतक की बदौलत टीम इंडिया ने साउथ अफ्रीका को सीरीज के आखिरी वनडे में 8 विकेट से हरा दिया. ये इस सीरीज में सेंचुरियन में साउथ अफ्रीका की दूसरी हार है वहीं सेंचुरियन में अब तक साउथ अफ्रीका के खिलाफ खेले 7 वनडे में से भारत की चौथी जीत है. इस जीत के बाद भारत ने वनडे सीरीज पर 5-1 से कब्जा जमा लिया है. ये साउथ अफ्रीका में टीम इंडिया की पहली वनडे सीरीज जीत है.

ऑस्ट्रेलिया के रिकॉर्ड की बराबरी

साउथ अफ्रीका को उसी के घर में रौंदकर विराट एंड कंपनी ने 17 साल पुराने ऑस्ट्रेलियाई रिकॉर्ड की भी बराबरी कर ली है. ऑस्ट्रेलिया ने स्टीव वॉ की कप्तानी में साल 2001-02 में साउथ अफ्रीका में 7 वनडे मैचों की बाइलेट्रल सीरीज 5-1 से जीती थी. ऑस्ट्रेलिया के बाद ये कमाल करने वाली टीम इंडिया दूसरी टीम है.

कोहली का कमाल, सेंचुरियन में धमाल

विराट के बल्ले के रनों की भूख सेंचुरियन में खेले गए आखिरी वनडे में भी खूब दिखी. अपने शानदार फॉर्म को बरकरार रखते हुए विराट ने यहां भी दमदार शतक जड़ा और भारत की बेहतरीन जीत की स्क्रिप्ट लिखी. विराट ने अपना शतक चौके के साथ पूरा किया. ये इस वनडे सीरीज में कोहली का तीसरा शतक है जबकि उनके वनडे करियर का 35वां शतक है. कोहली ने 96 गेंदों पर नाबाद 126 रन बनाए, जिसमें 19 चौके और 2 छक्के शामिल रहे. इस शानदार पारी के लिए विराट कोहली को मैन ऑफ द मैच के अवार्ड से नवाजा गया. वहीं सीरीज में सर्वाधिक रन बनाने के लिए कोहली को मैन ऑफ द सीरीज का खिताब भी दिया गया. कोहली ने इस वनडे सीरीज के 6 मैच में 186 की औसत से 558 रन बनाए हैं, जिसमें 3 शतक शामिल हैं.

विराट की इस शानदार शतकीय पारी में उनकी दो बेमिसाल साझेदारी भी शामिल रही. विराट ने दूसरे विकेट के लिए शिखर धवन के साथ मिलकर 61 रन जोड़े. इस साझेदारी में शिखर धवन का योगदान 18 रन का हुआ. धवन लुंगी नगीदी का शिकार बने. इसके बाद विराट कोहली ने तीसरे विकेट के लिए अजिंक्य रहाणे के साथ मिलकर शानदार शतकीय साझेदारी की और 126 रन जोड़े. इस साझेदारी में रहाणे ने नाबाद 34 रन बनाए. सेंचुरियन में भारत को पहला झटका रोहित शर्मा के तौर पर लगा जो 19 रन बनाकर लुंगी नगीदी का शिकार बने.

भारतीय गेंदबाजों के आगे साउथ अफ्रीका का सरेंडर

इससे पहले साउथ अफ्रीका की पारी 204 रन पर सिमट गई. भारत की शानदार गेंदबाजी के आगे साउथ अफ्रीकी बल्लेबाज विकेट पर जम नहीं सके और रेग्यूलर इंटरवल पर उनके विकेट गिरते रहे. नतीजा, पूरी टीम सिर्फ 46.5 ओवर में ऑलआउट हो गई. दक्षिण अफ्रीका की ओर से सबसे ज्यादा रन अपने करियर का तीसरा वनडे खेल रहे जोन्डो ने बनाए. जोन्डो ने 74 गेंदों पर 54 रन बनाए जिसमें 3 चौके और 2 छक्के शामिल रहे. जोन्डो के अलावा एबी डिविलियर्स ने 30 रन बनाए जबकि फिलकुवायो ने 34 रन की पारी खेली.

भारत की ओर से सबसे ज्यादा 4 विकेट शार्दुल ठाकुर ने लिए. पहले स्पेल में शानदार गेंदबाजी करते करते हुए शार्दुल ने अफ्रीका के दोनों सलामी बल्लेबाज अमला और मारक्रम को अपना शिकार बनाया. इसके बाद दूसरे स्पेल में शार्दुल ने बेहरेनडेन को अपना शिकार बनाया. जबकि तीसरे स्पेल में विस्फोटक दिख रहे फिलकुवायो का विकेट चटकाकर साउथ अफ्रीका की पारी का अंत कर दिया. शार्दुल के अलावा चहल ने 2 विकेट लिए जबकि बूमराह को भी 2 विकेट मिले. वहीं, कुलदीप यादव और हार्दिक पांड्या को 1-1 विकेट मिला.

साउथ अफ्रीका ने टीम इंडिया के सामने जीत के लिए 205 रन का लक्ष्य रखा था लेकिन भारत ने कोहली की कमाल की शतकीय पारी के दम पर इस टारगेट को 107 गेंद पहले 8 विकेट से हासिल कर लिया. सेंचुरियन में सीरीज का दूसरा वनडे भारत ने 177 गेंद पहले 9 विकेट से जीता था.

लाइव स्कोर :

भारत की ओर से सबसे ज्यादा 4 विकेट शार्दुल ठाकुर ने लिए. पहले स्पेल में शानदार गेंदबाजी करते करते हुए शार्दुल ने अफ्रीका के दोनों सलामी बल्लेबाज अमला और मारक्रम को अपना शिकार बनाया. इसके बाद दूसरे स्पेल में शार्दुल ने बेहरेनडेन को अपना शिकार बनाया. जबकि तीसरे स्पेल में विस्फोटक दिख रहे फिलकुवायो का विकेट चटकाकर साउथ अफ्रीका की पारी का अंत कर दिया. शार्दुल के अलावा चहल ने 2 विकेट लिए जबकि बूमराह को भी 2 विकेट मिले. वहीं, कुलदीप यादव और हार्दिक पांड्या को 1-1 विकेट मिला.

साउथ अफ्रीका ने टीम इंडिया के सामने जीत के लिए 205 रन का लक्ष्य रखा था लेकिन भारत ने कोहली की कमाल की शतकीय पारी के दम पर इस टारगेट को 107 गेंद पहले 8 विकेट से हासिल कर लिया. सेंचुरियन में सीरीज का दूसरा वनडे भारत ने 177 गेंद पहले 9 विकेट से जीता था.