नई दिल्ली। टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली समेत कई खिलाड़ियों ने अपने साथी अभिनव मुकुंद की पोस्ट का समर्थन किया है. युवा क्रिकेटर मुकुंद ने बुधवार को एक ट्वीट करके नस्ली टिप्पणियों के खिलाफ कड़ा रुख अख्तियार किया था. उनके इस पोस्ट का समर्थन करते हुए कोहली ने ट्वीट किया, ‘बहुत अच्छा लिखा है अभिनव’. रविचंद्रन अश्विन और हार्दिक पंड्या ने भी मुकुंद का समर्थन किया है. अश्विन ने लिखा, ‘‘पढ़ें और सीखें, इसे बड़ा मसला नहीं बनाएं क्योंकि यह किसी की भावनाएं हैं.’’ यहां तक कि बैडमिंटन खिलाड़ी ज्वाला गुट्टा भी मुकुंद का बयान पढ़ने के बाद उनके समर्थन में आई. Also Read - Ab de Villiers के इस 4-Point Message से वापस फॉर्म में लौटे Virat Kohli, भारतीय कप्‍तान ने मांगी थी मदद

अभिनव मुकुंद ने एक ट्वीट में लिखा कि मैं कोई हमदर्दी या तवज्जो लेने के लिए यह नहीं लिख रहा. मैं लोगों की मानसिकता बदलना चाहता हूं. मैं 15 साल की उम्र से देश के भीतर और बाहर घूमता आया हूं. बचपन से मेरी चमड़ी के रंग को लेकर लोगों का रवैया मेरे लिए हैरानी का सबब रहा. हालाकि उन्होंने साफ किया कि उनके बयान में भारतीय क्रिकेट टीम के किसी सदस्य से कोई सरोकार नहीं है.

उन्होंने कहा, ‘जो क्रिकेट देखता है, वह समझता होगा. मैने चिलचिलाती धूप में खेला है और मुझे इसका कोई मलाल नहीं कि मेरा रंग काला हो गया है. मैं वह कर रहा हूं, जिससे मुझे प्यार है और इसके लिए मैं घंटो नेट पर बिताता हूं. मैं चेन्नई का रहने वाला हूं, जो देश के सबसे गर्म इलाकों में से है.’ मुकुंद ने कहा, ‘ गोरा रंग ही लवली या हैंडसम नहीं होता. जो भी आपका रंग है, उसमें सहज रहकर अपने काम पर फोकस करें.’

अभिनव मुकुंद श्रीलंका दौरे पर गई भारतीय टीम के टेस्ट टीम का हिस्सा हैं. उन्हें गॉल में खेले गए पहले टेस्ट चोटिल केएल राहुल की जगह खेलने का मौका मिला था. इस टेस्ट की दूसरी पारी में मुकुंद ने 81 रन की पारी खेली थी. दूसरे टेस्ट में केएल राहुल के फिट होने के बाद उन्हें एक बार फिर बाहर बैठना पड़ा.