नई दिल्ली. एडिलेड टेस्ट जीतकर विराट कोहली की कप्तानी में भारत ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 4 टेस्ट मैचों की सीरीज में 1-0 की बढ़त ले चुका है. ये पहली बार है जब टीम इंडिया ने ऑस्ट्रेलिया में टेस्ट सीरीज की शुरुआत लीड के साथ की है. यानी, ये बढ़िया मौका है ऑस्ट्रेलिया में पहली टेस्ट सीरीज जीतने का, जिससे विराट कोहली भी इत्तेफाक रखते हैं. Also Read - विराट कोहली ने मोहम्मद सिराज को किया प्रेरित, बोले- ये हालात तुम्हें मजबूत बनाएंगे

Also Read - India vs Australia: ऑस्ट्रेलिया से भारत भिड़ने को तैयार, जानें- दोनों टीमों के वनडे में 10 बड़े रिकॉर्ड

एडिलेड से पर्थ के सफर में वॉन ने क्या देखा? Also Read - India vs Australia Practice Match: कोहली की दमदार पारी के दम पर ऑस्ट्रेलिया में 5 विकेट से जीती विराट की टीम

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच टेस्ट सीरीज का दूसरा मैच पर्थ में खेला जाना है. इसके लिए भारतीय टीम एडिलेड से पर्थ पहुंच भी चुकी है. शादी की पहली सालगिरह होने की वजह से अनुष्का इस वक्त विराट कोहली के साथ ही हैं. क्रिकेट और बॉलीवुड के मेल से बनी पति और पत्नी की जोड़ी ने एडिलेड से पर्थ का सफर साथ-साथ ही किया. इस सफर में इंग्लैंड के पूर्व कप्तान माइकल वॉन भी टीम इंडिया के साथ थे. हालांकि, एडिलेड से पर्थ के सफर के दौरान माइकल वॉन ने जो देखा वो काफी चौकाने वाला रहा और जिसे देखने के बाद वॉन ने पर्थ में भी ऑस्ट्रेलिया की हार पर मुहर लगा दी.

माइकल वॉन की ‘आंखों देखी’

माइकल वॉन ने जो देखा उसके मुताबिक विराट कोहली और उनकी पत्नी अनुष्का ने अपनी बिजनेस क्लास की सीट टीम इंडिया के तेज गेंदबाजों को दे दी ताकि वो बेहतर तरीके से आराम कर सकें और बिना किसी थकान के एडिलेड से पर्थ की दूरी तय कर सकें. माइकल वॉन ने विराट-अनुष्का की इस सच्चाई को अपने ट्वीट के जरिए बयां किया. उन्होंने ये भी ट्वीट किया कि ऑस्ट्रेलियाई टीम को आराम से बैठने की जरुरत नहीं क्योंकि भारतीय कप्तान अपने गेंदबाजों का अच्छा ख्याल रख रहे हैं.

10 दिसंबर को एडिलेड में पहला टेस्ट मैच खत्म होने के बाद पर्थ में होने वाले दूसरे टेस्ट मैच के शुरू होने में ज्यादा वक्त नहीं है. पर्थ टेस्ट 14 दिसंबर से शुरू हो रहा है और टीम इंडिया 11 दिसंबर को ही पर्थ पहुंची है. एडिलेड से पर्थ की दूरी करीब 2700 किलोमीटर है. ऐसे में पहले मैच और फिर इतने लंबे सफर की थकान के बाद भारतीय गेंदबाजों को आराम का कितना वक्त मिलने वाला है, इसे समझा जा सकता है.

ICC Test Ranking: विराट की बादशाहत को खतरा, स्टीव स्मिथ को पीछे छोड़ इस बल्लेबाज ने दी चुनौती

दूसरे, विराट का मानना है कि टेस्ट मैच जीतने के लिए 20 विकेट लेने जरूरी है और ऑस्ट्रेलिया में इसे अंजाम देने के लिए तेज गेंदबाजों का फुल इनर्जी में होना जरूरी है. खासकर, पर्थ की पिच पर तो ये और भी जरूरी हो जाता है जिसका मिजाज ही तेज गेंदबाजी के अनुकूल है.

‘विरुष्का’ का दांव उड़ाएगा ऑस्ट्रेलिया की नींद

इसी को ख्याल में रखते हुए विराट और अनुष्का ने बड़ा दिल दिखाया और अपनी टीम के तेज गेंदबाजों को बिजनेस क्लास की सीट आराम करने के लिए दे दी. अब ये आराम किस हद तक पर्थ में ऑस्ट्रेलिया की नींदें हराम करेगा, इसके बारे में इंग्लैंड के पूर्व कप्तान माइकल वॉन अपनी आंखों देखी के जरिए उन्हें चेता चुके हैं.