नई दिल्ली: कप्तान विराट कोहली ने एक बार फिर पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी का बचाव किया जिन्हें लॉर्ड्स में दूसरे वनडे मैच में भारत की 86 रन की हार के दौरान 58 गेंद में 37 रन की पारी खेलने के लिए आलोचना का सामना करना पड़ रहा है. एक समय सीमित ओवरों के क्रिकेट के सर्वश्रेष्ठ फिनिशर माने जाने वाले धोनी को पिछले कुछ वर्षों में दूसरे छोर पर शीर्ष क्रम के साथी की गैरमौजूदगी में दबाव वाले मैचों में जूझना पड़ा है. Also Read - IPL 2020: 600 रन पार हुए केएल राहुल, विराट कोहली के खास क्लब में शामिल

Also Read - IPL 2020 RCB vs SRH Live Streaming: कब और कहां देख सकेंगे बैंगलोर-हैदराबाद मैच

शनिवार को इंग्लैंड के 323 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए शीर्ष क्रम के ध्वस्त होने के बाद धोनी पर काफी जिम्मेदारी थी. लेकिन वह तेज गति से रन बनाने में नाकाम रहे और भारत 50 ओवर में 236 रन पर ढेर हो गया. इंग्लैंड के पूर्व कप्तान नासिर हुसैन ने जब धोनी की पारी पर सवाल किया तो कोहली ने मैच के बाद कहा, ‘‘यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि लोग तेजी से नतीजे पर पहुंच जाते हैं. जब वह अच्छा करता है तो लोग उसे अब तक का सर्वश्रेष्ठ फिनिशर कहते हैं और जब चीजें सही नहीं होती तो लोग उसे निशाना बनाते हैं.’’ Also Read - IPL 2020: आईपीएल के इतिहास में पहली बार MS Dhoni के खिलाफ किसी गेंदबाज ने किया ये कारनामा जिसे...

टीम इंडिया की हार के बावजूद लॉर्ड्स में चमके धोनी, द्रविड़-गांगुली की ‘सुपर-10’ लिस्ट में शामिल

कोहली ने धोनी का बचाव करते हुए कहा, ‘‘हमारा विचार पारी में गहराई लाना है. उसके पास अनुभव है लेकिन कभी कभी चीजें आपके पक्ष में नहीं होती. हमें उस पर और सभी खिलाड़ियों की क्षमता पर पूरा विश्वास है.’’

INDvsENG: मैच के दौरान दर्शक ने महिला को शादी के लिए किया प्रपोज, VIDEO वायरल

बता दें कि इंग्लैंड ने टीम इंडिया को 3 वनडे मैचों की सीरीज के दूसरे मैच में 86 रन से हराया. इस मैच में इंग्लैंड ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 322 रन बनाए. जब कि भारतीय टीम ऑलआउट होने तक 236 रन ही बना पायी. इस दौरान सुरेश रैना ने 46 और विराट कोहली ने 45 रन बनाए. वहीं महेन्द्र सिंह धोनी ने 59 गेंदों का सामना करते हुए 37 रन बनाए. खास बात यह रही की धोनी ने इस मुकाबले में अपने 10000 वनडे रन पूरे किए. इसके अलावा 300 कैच भी पूरे किए.