टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली ने रविवार को न्यूजीलैंड के खिलाफ तीसरे वनडे में एक और उपलब्धि हासिल कर ली. इस मैच में टॉस हारकर पहले बैटिंग के लिए उतरी टीम इंडिया के लिए 9 रन बनाते ही कोहली ने 2017 में इंटरनेशनल क्रिकेट में अपने 2000 रन पूरे किए. कोहली इस साल ये उपलब्धि हासिल करने वाले दुनिया के पहले बल्लेबाज बन गए हैं. कोहली के बाद इस लिस्ट में दूसरे नंबर पर दक्षिण अफ्रीका के हाशिम अमला हैं जिन्होंने इस साल 34 मैचों में अब तक 1988 रन बनाए हैं. तीसरे नंबर पर 1855 रन के साथ जो रूट, चौथे नंबर पर 1709 रन के साथ फाफ डुप्लेसिस और पांचवें नंबर पर 1610 रन के साथ क्विंटन डि कॉक हैं.Also Read - 'आप कोहली के लिए बदकिस्मत हैं...' T20 World Cup में पाक से टीम इंडिया हारी तो इस कदर ट्रोल हुईं Anushka Sharma

कोहली ने अपने करियर में दूसरी बार हासिल की ये उपलब्धि
कोहली ने अपने करियर में दूसरी बार ये उपलब्धि हासिल की है. इससे पहले उन्होंने 2016 में भी ये उपलब्धि हासिल की थी. कोहली से पहले भारत के लिए सचिन तेंदुलकर तीन कैलेंडर साल में ये कमाल कर चुके हैं. सचिन ने 1996, 1997 और 1998 में लगातार तीन साल इंटरनेशनल क्रिकेट में अपने 2000 रन बनाए थे. 

Virat Kohli needs 83 runs to become the sixth Indian player to score 9000 runs in ODIs । कानपुर वनडे में 83 रन और बनाते ही ये नया इतिहास रच देंगे विराट कोहली

Virat Kohli needs 83 runs to become the sixth Indian player to score 9000 runs in ODIs । कानपुर वनडे में 83 रन और बनाते ही ये नया इतिहास रच देंगे विराट कोहली

Also Read - T20 World Cup 2021: न्यूजीलैंड के हारने से भारत को मिली सेमीफाइनल की संजीवनी, जानें समीकरण

कोहली के वनडे करियर का सबसे सफल साल बना 2017
वहीं इस मैच में 35 रन बनाते ही कोहली ने वनडे में एक कैलेंडर साल में अपने सबसे ज्यादा रन के रिकॉर्ड को बेहतर किया. इस मैच से पहले इस साल कोहली ने 25 वनडे मैचों में 1347 रन बनाए थे. इस मैच में 35 रन तक पहुंचते ही कोहली ने 2011 में बनाए गए अपने 1381 रन के रिकॉर्ड को पार कर लिया. इस तरह 2017 का साल कोहली के करियर के वनडे करियर का सबसे कामयाब साल बन गया है. Also Read - IND vs PAK: सौरव गांगुली ने उजागर की विराट एंड कंपनी की सबसे बड़ी कमजोरी, बोले-हमारे वक्‍त में मैं और वीरू...