नई दिल्ली: इंग्लैंड के खिलाफ टीम इंडिया लीड्स में वनडे सीरीज का आखिरी मैच खेल रही है. इस मुकाबले में भारतीय टीम पहले बल्लेबाजी कर रही है. भारत की शुरुआत अच्छी नहीं रही. टीम के शुरुआती विकेट काफी जल्दी गिर गए. रोहित शर्मा 2 रन बनाकर आउट हुए. इसके बाद शिखर धवन 44 रन बनाकर आउट हुए. दिनेश कार्तिक भी 21 रन बनाकर चलते बने. लेकिन इस दौरान कप्तान विराट कोहली ने काफी देर तक दूसरा छोर संभाले रखा. कोहली 71रन बनाकर आउट हुए. इस दौरान उन्होंने एक शानदार रिकॉर्ड बनाते हुए महेन्द्र सिंह धोनी, एबी डिविलियर्स और सौरव गांगुली को पीछे छोड़ दिया. Also Read - RCB vs SRH: हार के लिए विराट कोहली ने मौसम को ठहराया जिम्‍मेदार, बोले- हमें लगा…

Also Read - IPL 2020: विराट कोहली महानतम बल्लेबाजों में से एक, तो उनका विकेट सबसे खास: संदीप शर्मा

दरअसल कोहली ने इस मुकाबले में 71 गेंदों का सामना करते हुए 8 चौकों की मदद से 71 रन बनाकर आउट हुए. इस पारी की बदलौत कोहली ने बतौर कप्तान 3000 से ज्यादा रन बना लिए. अहम बात यह है कि उन्होंने बतौर वनडे कप्तान सबसे तेज 3000 रन बनाए. इस दौरान उन्होंने एबी डिविलियर्स, महेन्द्र सिंह धोनी, सौरव गांगुली और मिस्बाह उल हक को पीछे छोड़ दिया. कोहली ने 49 वनडे पारियों में 3000 रन पूरे किए हैं. वहीं डिविलियर्स ने 60 पारियों में 3000 रन पूरे किए थे. जब कि धोनी ने 70 पारियों में यह मुकाम हासिल किया था. Also Read - RCB vs SRH HIGHLIGHTS: सनराइजर्स हैदराबाद ने बैंगलोर को हराकर बढ़ाया प्लेऑफ का रोमांच, उसकी जीत में ये 5 कारण रहे खास

LIVE INDvsENG: टीम इंडिया को लगा छठा झटका, पांड्या 21 रन बनाकर आउट

भारतीय टीम के पूर्व दिग्गज खिलाड़ी सौरव गांगुली बतौर कप्तान ने 74 वनडे पारियों में 3000 रन पूरे किए थे. वहीं इस लिस्ट में 5वें स्थान पर पाकिस्तान के मिस्बाह उल हक और ग्रैम स्मिथ हैं. इन दोनों खिलाड़ियों ने 83 पारियों में यह मुकाम हासिल किया था. वहीं सनथ जयसुर्या और रिकी पोटिंग ने 84 पारियों में यह उपलब्धि हासिल की थी.

राहुल को प्लेइंग इलेवन से बाहर करने पर फैन्स ने कोहली की लगाई क्लास, रैना पर उठाया सवाल

इसके अलावा कोहली के नाम एक और खास रिकॉर्ड दर्ज हुआ है. दरअसल कोहली वनडे मैचों में 50 से ज्यादा पारियां खेलने के मामले में 9वें स्थान पर पहुंच गए हैं. उन्होंने 83 पचास से ज्यादा वनडे पारियां खेली हैं. इस लिस्ट में पहले नंबर पर सचिन तेंदुलकर हैं. सचिन ने 145 बार 50 से ज्यादा वनडे पारियां खेली हैं. इस लिस्ट में राहुल द्रविड़ छठे स्थान पर हैं. उन्होंने 95 पारियां खेली हैं. वहीं गांगुली ने 94 पारियां खेली हैं.