भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली पिछले कुछ वर्षों से जिस गति से सभी फॉर्मेट में रन बना रहे हैं उसे देखकर ये कहना गलत नहीं होगा कि आने वाले समय में वह मास्टर ब्लास्टर के उन कई रिकॉर्ड को ध्वस्त कर सकते हैं जो अब तक अटूट है. ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट टीम के पूर्व तेज गेंदबाज ब्रेट ली का भी मानना है कि कोहली ऐसा कर सकते हैं. Also Read - 'मेरे लिए क्रिकेट के डॉन हैं MS Dhoni, इन्हें पकड़ना मुश्किल ही नहीं नामुमकिन है'

ली ने क्रिकेट कनेक्टेड कार्यक्रम में कहा, ‘हम यहां शानदार रिकॉर्ड की बात कर रहे हैं और जिस तरह से उनका पिछले 7-8 साल का क्रिकेट करियर रहा है और जिस तरह से वह (विराट कोहली) आगे बढ रहे हैं, उसे देखते हुए वह निश्चित रूप से इसे हासिल कर सकते हैं.’ ऑस्ट्रेलिया की ओर से 76 टेस्ट, 221 वनडे और 25 टी 20 इंटरनेशनल मैच खेल चुके ली का मानना है कि सचिन का रिकॉर्ड तोड़ना आसान नहीं है. Also Read - विराट कोहली के मुरीद इयान बॉथम बोले-ऑलराउंडर्स पेड़ पर नहीं उगते

कोहली-डीविलियर्स का बड़ा फैसला-IPL के इस ऐतिहासिक बल्ले को करेंगे नीलाम Also Read - अनिल कुंबले और वीवीएस लक्ष्मण ने इस साल IPL आयोजन की उम्मीद जताई, जानिए पूरी डिटेल

उन्होंने कहा, ‘लेकिन, आप यह कैसे कह सकते हैं कि कोई सचिन तेंदुलकर से आगे निकल सकता है.  वह यहां भगवान हैं, क्या कोई भगवान से भी बेहतर हो सकता है, हम इंतजार करेंगे और देखेंगे. ‘ कोहली के आदर्श तेेंदुलकर रहेे हैं.

सचिन ने भारत के लिए 200 टेस्ट मैच खेले हैं.  उन्होंने टेस्ट और वनडे में मिलाकर 100 शतक लगाए हैं.  सचिन ने 463 वनडे मैचों में 18426 रन बनाए हैं और इसमें 49 शतक शामिल हैं.

सचिन ने शुक्रवार को ही अपना 47वां जन्मदिन मनाया है.  टेस्ट में उनके नाम 15921 रन दर्ज है और इसमें 51 शतक शामिल है.  वहीं, कोहली ने वनडे में अब तक 44 और टेस्ट में 27 शतक लगाए हैं और अब वह सचिन के रिकॉर्ड की बराबरी करने से मात्र 29 शतक ही दूर हैं.

‘कोहली के पास वो तीन चीजें हैं जो इस रिकॉर्ड को तोड़ने के लिए चाहिए’

ली के अनुसार, तीन ऐसे कारक है जोकि कोहली के पक्ष में जाता है और वह इसी तीन कारणों के चलते क्रिकेट के भगवान सचिन का रिकॉर्ड तोड़ सकते हैं.

बकौल ली, ‘पहली चीज प्रतिभा है.  वह निश्चित रूप से उनके पास वह प्रतिभा है, जो पहले और सबसे महत्वपूर्ण है.  इसके बाद फिटेनस आता है.  वह काफी फिट हैं और 30 साल की उम्र में वह मानसिक रूप से भी काफी फिट हैं.  घर से, पत्नी से और जब उनके बच्चे होंगे तब दूर रहना मानसिक रूप से फिट रहना जरूरी है.’

विराट कोहली का बड़ा ऐलान, बोले-जब तक मैं IPL में खेलूंगा तब तक RCB को नहीं छोड़ूंगा

उन्होंने कहा, ‘मेरा मानना है कि अगर वह इसी तरह से मानसिक रूप से फिट रहते हैं तो मुझे लगता है कि उनमें ये तीनों गुण है, जिसके माध्यम से वह सचिन से आगे निकल सकते हैं. ‘

कोविड-19 वैश्विक महामारी के कारण इस समय क्रिकेट की सभी प्रकार की गतिविधियां बंद हैं.  भारत सहित कई देशों में वर्तमान में लॉकडाउन घोषित है.