क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया प्रमुख जेम्स सदरलैंड ने विराट कोहली पर तंज कसते हुए कहा है कि उन्हें नहीं पता कि भारतीय कप्तान ‘सॉरी’ कहना जानते हैं कि नहीं।

एक ऑस्ट्रेलिया रेडियो शो के दौरान ये पूछे जाने पर कि क्या कोहली को बैंगलोर टेस्ट के दौरान डीआरएस विवाद में स्टीव स्मिथ की ईमानदारी पर सवाल उठाने के लिए माफी मांगनी चाहिए, सदरलैंड ने कहा, ‘देखिए, मैं निश्चित तौर पर ये नहीं कह सकता कि उन्हें ये शब्द (सॉरी) कहना आता है।’

बैंगलोर टेस्ट के दौरान आउट करार दिए जाने बाद स्मिथ द्वारा डीआरएस के लेने के लिए ड्रेसिंग रूम की सलाह लेने की कोशिश करने पर कोहली ने मैच के बाद उनकी तीखी आलोचना की थी। जिसे लेकर काफी विवाद हुआ था। सदरलैंड ने कोहली द्वारा स्मिथ की आलोचना को खारिज करते हुए इसे अपमानजनक करार दिया था। यह भी पढ़ें: कोहली को मिला क्लार्क का साथ, ‘सिर्फ दो-तीन ऑस्ट्रेलियाई पत्रकार कर रहे कोहली की छवि खराब’

इस मुद्दे को लेकर क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया और बीसीसीआई के बीच भी तनातनी हुई थी और बीसीसीआई ने तो स्मिथ के खिलाफ आईसीसी में शिकायत तक कर दी थी। हालांकि आईसीसी द्वारा स्मिथ और कोहली के खिलाफ कोई कार्रवाई न करने के निर्णय के बाद बीसीसीआई ने ये शिकायत वापस ले ली थी।

सदरलैंड ने उम्मीद जताई कि धर्मशाला में चौथे और आखिरी टेस्ट के बाद दोनों टीमों के बीच जारी प्रतिद्वंद्विता खत्म हो जाएगी। उन्होंने कहा, इस लंबी और प्रतिस्पर्धात्मक सीरीज के खत्म होने पर उम्मीद है कि दोनों टीमों के खिलाड़ी साथ आएंगे और मुस्कुराएंगे। मुझे पता है कि वे आईपीएल में एक साथ काफी समय बिताने वाले हैं, तो मैं निश्चित तौर पर जानता हूं कि अगर ऐसा धर्मशाला टेस्ट के बाद नहीं हुआ तो ये आईपीएल में होगा। यह भी पढ़ें: ऑस्ट्रेलिया की मीडिया ने विराट कोहली को बना दिया खेलों का डोनाल्ड ट्रंप!

चार मैचों की इस टेस्ट सीरीज के दौरान कोहली मैदान के अंदर और बाहर दोनों जगह कंगारुओं के निशाने पर रहे हैं। अब तक बल्ले से अच्छा प्रदर्शन कर पाने में नाकाम रहने वाले कोहली कई पूर्व ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर आलोचना कर चुके हैं, जिनमें इयान हिली और मिशेल जॉनसन जैसे बड़े नाम भी शामिल हैं।

हाल ही में ऑस्ट्रेलियाई मीडिया के एक धड़े ने कोहली की लगातर आलोचना करते हुए उन्हें ‘खेल जगत का डोनाल्ड ट्रंप’ तक कह दिया था। ऑस्ट्रेलियाई मीडिया के इस रवैये की आलोचना करते हुए पूर्व भारतीय कप्तान सुनील गावस्कर ने तो उन्हें ऑस्ट्रेलियाई टीम का सपोर्ट स्टाफ करार दिया। यह भी पढ़ें: विराट कोहली की फैन है क्रिकेट खेलने वाली ये कश्मीरी लड़की, लिखती है ख़त