नई दिल्ली. क्रिकेट का मक्का यानी लॉर्ड्स, इंग्लैंड के उन मैदानों में है जिस पर विराट कोहली का बल्ला कुछ खास नहीं कर सका है. यूं कहें कि इस मैदान पर विराट के बल्ले की बोलती लगभग बंद ही रही है. लॉर्ड्स में खेली 3 पारियों में विराट ने अब तक सिर्फ 41 रन बनाए हैं. इनमें साल 2011 में खेला एक वनडे मुकाबला जबकि 2014 के दौरे पर टेस्ट की 2 पारियां शामिल हैं.

लॉर्ड्स में लगेगी धोनी की ‘लॉटरी’, नाम होगी एक-दो नहीं 3 बड़े रिकॉर्ड्स की पोटली!

साल 2018 में है जबरदस्त फॉर्म

लेकिन इस बार ऐसा नहीं होगा. इस बार विराट पहले से ज्यादा मंझे हुए बल्लेबाज हैं. और, सबसे बड़ी बात ये है कि उनका इस साल का वनडे रिकॉर्ड् भी अव्वल दर्जे का है. विराट ने साल 2018 में अब तक वनडे की 7 पारियों में 158.25 की औसत और 98.44 की स्ट्राइक रेट से 633 रन बनाए हैं इन 7 पारियों में विराट के नाम 3 शतक और 2 अर्धशतक हैं.

लगातार 9वें साल हजार पार

यही नहीं इस साल विराट के नॉटिंघम वनडे के दौरान इंटरनेशनल क्रिकेट में 1000 प्लस रन भी पूरे हो चुके हैं. विराट ने लगातार 9वें साल ये कमाल किया है. इन आंकड़ों से साफ है कि विराट फिलहाल किस जबरदस्त फॉर्म में हैं. विराट इंग्लैंड के खिलाफ T20 सीरीज में बेशक नहीं चले थे लेकिन वनडे सीरीज के पहले ही मुकाबले में 75 रन की पारी खेलकर उन्होंने खुद के फॉर्म में होने के सबूत दे दिए है.

टीम इंडिया ने एतिहासिक कामयाबी पर लंदन से ठोका सलाम, हिमा दास ने भेजा ये पैगाम

लॉर्ड्स में छाने पर नजर

जाहिर है अब आज उनकी कोशिश लॉर्ड्स में भी अपने लाजवाब रिकॉर्ड को बरकरार रखने की होगी. ताकि वो इस मैदान पर अपने खराब रिकॉर्ड को दुरुस्त करते हुए टीम इंडिया की जीत और न सिर्फ जीत बल्कि सीरीज जीत की स्क्रिप्ट लिख सकें.