नई दिल्ली. वर्ल्ड क्रिकेट में इस वक्त विराट कोहली की धूम है. टेस्ट हो या वनडे हर फॉर्मेट में वो नंबर वन हैं. और, इसकी वजह है उनकी दमदार बल्लेबाजी. उनका बेजोड़ रिकॉर्ड. कोहली की बल्लेबाजी का कमाल कुछ ऐसा है कि बड़े बड़े गेंदबाज उनके सामने पानी मांगते नजर आते हैं. नागपुर वनडे में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ उन्होंने अपने करियर के बेहतरीन शतकों में से एक को अंजाम दिया. इस शतक के साथ उन्होंने कई रिकॉर्ड भी अपने नाम किए. इन्हीं रिकॉर्डों में से एक है एक-दो नहीं तीन टीमों के खिलाफ शतक का एक अलग लेवल. Also Read - Ab de Villiers के इस 4-Point Message से वापस फॉर्म में लौटे Virat Kohli, भारतीय कप्‍तान ने मांगी थी मदद

Also Read - IPL 2021 RR vs DC Highlights in Hindi: क्रिस मॉरिस की धमाकेदार पारी के दम पर राजस्थान ने दिल्ली को हराया

3 टीमों के खिलाफ 7+ शतक Also Read - BCCI के सालाना कॉन्ट्रेक्ट की ए+ कैटेगरी में कोहली, रोहित और बुमराह को मिली जगह; पांडे-जाधव बाहर

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 7वां वनडे शतक ठोककर विराट कोहली दुनिया के पहले ऐसे बल्लेबाज बन गए हैं, जिसके नाम एक-दो नहीं बल्कि तीन टीमों के खिलाफ 7 या उससे ज्यादा शतक दर्ज हैं. ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ ये कमाल करने से पहले विराट वेस्टइंडीज और श्रीलंका के खिलाफ भी ऐसा कर चुके हैं. वेस्टइंडीज के खिलाफ जहां विराट ने 7 वनडे शतक जमाए हैं वहीं श्रीलंका के खिलाफ उनके नाम अब तक 8 शतक हैं.

कोहली ने ऑस्ट्रेलिया पर किया ‘विराट’ स्ट्राइक, मुश्किल पिच पर दिखाया ‘नंबर एक’ खेल

सचिन के रिकॉर्ड पर रहेगी नजर

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सबसे ज्यादा 9 शतक लगाने का वर्ल्ड रिकॉर्ड सचिन तेंदुलकर के नाम है. इसका मतलब है विराट कोहली अब बस 2 शतक सचिन की बराबरी से और 3 शतक उनके रिकॉर्ड को तोड़ने से दूर हैं. सचिन ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 70 पारियों में 9 शतक लगाए हैं जबकि विराट ने 31 पारियों में ही 7 वनडे शतक जमा दिए हैं. विराट के अलावा एक और भारतीय बल्लेबाज हैं रोहित शर्मा हैं जिन्होंने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 7 वनडे शतक जमाए हैं.

इस मामले में सबसे तेज निकले विराट कोहली, ऐसा करने वाले बने दुनिया के छठे कप्तान

विराट बने चौथे भारतीय

नागपुर वनडे में विराट ने एक और कामयाबी हासिल की है. वनडे क्रिकेट में 1000+ चौके जमाने वाले वो चौथे भारतीय बल्लेबाज बन गए हैं. विराट से पहले सचिन, सौरव और सहवाग ऐसा कर चुके हैं.