घर पर अजेय टीम इंडिया ने न्यूजीलैंड के खिलाफ पहला टी20 मैच जीतकर दौरे की शानदार शुरुआत की। ऑकलैंड के ईडन पार्क में खेले गए इस मैच में 204 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए भारत ने 6 विकेट से जीत हासिल की। हालांकि कप्तान विराट कोहली टीम के प्रदर्शन से पूरी तरह खुश नहीं हैं। Also Read - ICC Test Rankings: Rohit Sharma ने हासिल की करियर की सर्वश्रेष्ठ रैंकिंग, R. Ashwin भी तीसरे पायदान पर

मैच प्रेसेंटेशन के दौरान कोहली ने कहा, “मुझे लगता है कि फील्डिंग ऐसी चीज है जहां हम सुधार कर सकते हैं। हमें केवल यहां के मैदान और बाउंड्री के अनुकूल होना है।” Also Read - ये 11 खिलाड़ी टीम इंडिया में बिना वापसी किए ही ले लेंगे संन्यास!

ऑकलैंड टी20 में ना केवल भारत बल्कि न्यूजीलैंड के खिलाड़ियों की ओर से भी खराब फील्डिंग देखने को मिली। रवींद्र जडेजा के ओवर थ्रो और युजवेंद्र चहल के छूटे कैच के बाद ईश सोढ़ी के कोहली का कैच छोड़ने और कीवी खिलाड़ियों के ओवर थ्रो से भारत को अतिरिक्त रन देने का नजारा भी देखने को मिला। Also Read - Devdutt Paddikal: शतक पर शतक लगा रहा है विराट कोहली का ये ओपनर बल्लेबाज, क्या IPL में RCB के लिए फिर करेगा कमाल

INDvNZ 1st T20: श्रेयस अय्यर और केएल राहुल के अर्धशतकों से जीता भारत, सीरीज में 1-0 से आगे

फील्डिंग के अलावा भारतीय कप्तान को अपने खिलाड़ियों से कोई शिकायत नहीं। उन्होंने कहा, “इस तरह की पिच पर आप किसी पर ज्यादा सख्ती नहीं दिखा सकते हैं। मुझे लगता है कि हमने बीच के ओवर में अच्छा प्रदर्शन किया, उन्हें 210 के अंदर रोकना हमारी तरह से बेहतरीन कोशिश की। एक समय पर लग रहा था कि वो 230 का स्कोर बना लेंगे लेकिन हमने अच्छी वापसी की।”

न्यूजीलैंड पहुंचने के बाद कप्तान कोहली ने प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान बीसीसीआई के व्यस्त शेड्यूल पर खुलकर बात की थी और इसकी आलोचना भी की थी। हालांकि कप्तान ने साफ कहा कि बाहर जो भी हो ड्रेसिंग रूम के अंदर इस तरह की चीजों के बारे में नहीं होती हैं। उन्होंने कहा, “हमने जेटलैग के बारे में कभी बात नहीं की। हम उसे बहाने की तरह इस्तेमाल नहीं करना चाहते थे। अगर हम उन चीजों पर ध्यान देंगे जो हमारे नियंत्रण में नहीं है तो फिर आपका ध्यान भटक जाएगा।”

विराट नंबर-1 बल्‍लेबाज, बेन स्‍टोक्‍स को ऑलराउंडर्स की सूची में बड़ा फायदा

कप्तान ने न्यूजीलैंड दौरे पर मैच देखने आए भारतीय फैंस का शुक्रिया किया। कोहली ने कहा, “केवल दो दिन पहले लैंड हुए और फिर इस तरह का मैच खेलने से पूरा दौरा सेट हो जाता है। यहां करीब 80 प्रतिशत फैंस भारत के हैं और काफी अच्छा माहौल है। 200 से ज्यादा के स्कोर का पीछा करते हुए आपको इसकी जरूरत होती है। इससे आपको हिम्मत दिखाने और आगे बढ़ने में मदद मिलती है।”