नई दिल्ली : विराट कोहली को भारत और वेस्टइंडीज के बीच खेली गई वनडे सीरीज के लिए ‘मैन ऑफ द सीरीज’ चुना गया. यह 15वीं बार है जब कोहली को इंटरनेशनल क्रिकेट में मैन ऑफ द सीरीज का अवॉर्ड दिया गया. भारतीय कप्तान कोहली सीरीज में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले खिलाड़ी हैं. उन्होंने 5 पारियों में शानदार बैटिंग करते हुए 151 के औसत से 453 रन बनाए. इस दौरान उन्होंने 3 शतक जड़े. कोहली का सर्वाधिक स्कोर नाबाद 157 रन रहा. कोहली ने इस शानदार प्रदर्शन की बदौलत एक खास रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया. वो किसी द्विपक्षीय वनडे सीरीज में 450 से ज्यादा रन बनाने वाले पहले भारतीय खिलाड़ी बन गए हैं. Also Read - '25 इयर्स ऑफ़ डब्बू रतनानी' स्पेशल फोटोशूट में इन हस्तियों ने बिखेरा जलवा, सलमान, शाहरुख़ भी बने हिस्सा 

कोहली ने वेस्टइंडीज के खिलाफ लगातार तीन शतक जड़े. उन्होंने गुवाहाटी वनडे में 140 रन की पारी खेली. इसके बाद विशाखापट्टनम वनडे में नाबाद 157 रन बनाए. पुणे वनडे में भी शतक जड़ते हुए 107 रन बनाए. Also Read - इस राज्य में सबसे तेजी से फैल रहा कोरोना, एक दिन में 13 लोगों की मौत

कोहली ने लगातार 3 शतक जड़ने के मामले में कई खिलाड़ियों की बराबरी कर ली. उनके लिए चौथा वनडे ज्यादा अच्छा नहीं रहा, क्यों कोहली सिर्फ 16 रन बनाकर आउट हो गए थे. हालांकि भारत ने यह मैच 224 रन से जीत लिया था. उन्होंने तिरुवनंतपुरम वनडे में नाबाद 33 रन बनाए. इस तरह कोहली ने पांच पारियों में 453 रन बनाए. वनडे में वो ऐसा करने वाले पहले भारतीय खिलाड़ी भी बन गए. Also Read - Happy Birthday: राज कपूर की फिल्म ठुकराने वाली सुचित्रा सेन को 'पारो' के किरदार ने बना दिया था फेमस, जानें उनके जीवन से जुड़ी कुछ बातें

भारत ने वनडे सीरीज पर 3-1 से किया कब्जा, आखिरी वनडे में वेस्टइंडीज को 9 विकेट से हराया

भारतीय कप्तान कोहली को 15वीं बार इंटरनेशनल क्रिकेट में ‘मैन ऑफ द सीरीज’ का अवॉर्ड मिला. इस अवॉर्ड के साथ ही उन्होंने दक्षिण अफ्रीका के पूर्व महान खिलाड़ी जैक कालिस की बराबरी कर ली. कालिस को भी 15 बार यह अवॉर्ड मिला है. जब कि कोहली अभी भी सचिन से पीछे हैं. सचिन को 20 बार इस खिताब से नवाजा गया है. इस लिस्ट में तीसरे स्थान पर श्रीनाथ हैं. उन्हें 13 बार यह ‘मैन ऑफ द सीरीज’ चुना गया.