मुंबई| भारतीय कप्तान विराट कोहली और पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी का उनकी आईपीएल टीमों रायल चैलेंजर्स बेंगलूर और वापसी कर रही चेन्नई सुपर किंग्स में ही बने रहना तय है. बीसीसीआई गुरुवार उन खिलाड़ियों की सूची जारी करेगा जिन्हें उनकी टीमों ने रिटेन किया है. राष्ट्रीय टीम के कप्तान के रूप में बेहद सफल रहे कोहली अभी तक आईपीएल खिताब नहीं जीत सके हैं.

पिछले सत्र में मुंबई इंडियंस को खिताब दिलाने वाले रोहित शर्मा, मुंबई इंडियंस के हरफनमौला हार्दिक पंड्या का भी रिटेन होना तय है. वहीं रविंद्र जडेजा चेन्नई टीम में लौटेंगे जो पिछले दो सत्र से गुजरात लायंस के लिये खेल रहे हैं.

आस्ट्रेलिया के डेविड वार्नर भी सनराइजर्स हैदराबाद में ही बने रहेंगे. दो साल के निलंबन के बाद टूर्नामेंट में लौट रही राजस्थान रायल्स आस्ट्रेलियाई कप्तान स्टीव स्मिथ पर नजरें लगाये होगी. दिल्ली में छह दिसंबर को हुई आईपीएल संचालन परिषद की बैठक में लिये गए फैसले के तहत हर टीम प्लेयर रिटेंशन और राइट टू मैच के तहत पांच खिलाड़ियों को चुन सकती है.

फ्रेंचाइजी को यह अधिकार होगा कि वह अधिकतम तीन रिटेंशन या तीन आरटीएम चुन सकती है. खिलाड़ियों की नीलामी से पहले यदि कोई रिटेंशन नहीं होता है तो टीम तीन आरटीएम ले सकती है. चेन्नई और राजस्थान के लिये रिटेंशन और आरटीएम के लिये वे खिलाड़ी होंगे जो 2015 में उनके लिये खेले और 2017 में राइजिंग पुणे सुपरजाइंट्स या गुजरात लायंस का हिस्सा थे.

वेतन पर लगी कैप भी बढा दी गई है. आगामी सत्र के लिये 80 करोड़, 2019 के लिये 82 और 2020 के लिये यह 85 करोड़ रूपये होगी. हर सत्र के लिये अधिकतम खर्च इसका 75 फीसदी हो सकता है.