नई दिल्लीः भारतीय कप्तान विराट कोहली वेस्टइंडीज के खिलाफ पांच एकदिवसीय मैचों की श्रृंखला में क्रिकेट के इस प्रारूप में 10,000 रन पूरे करके दिग्गज सचिन तेंदुलकर के एक रिकार्ड को अपने नाम कर सकते हैं. कोहली ने अब वनडे में 9779 रन बनाये हैं और उन्हें ‘दस हजारी’ क्लब में शामिल होने के लिये केवल 221 रन की दरकार है. बेहतरीन फार्म में चल रहे कोहली अगर पांचों मैच में खेलते हैं तो आसानी से इस मुकाम तक पहुंच सकते हैं. Also Read - Mohammed Siraj Fiancée: कौन है वो लड़की, जिससे शादी करेंगे भारतीय क्रिकेटर मोहम्मद सिराज, मंगेतर के बारे में खुद किया बड़ा खुलासा

इतना तय है कि कोहली जब भी वनडे में 10,000 रन पूरे करेंगे तो सबसे कम पारियों में इस मुकाम पर पहुंचने का रिकार्ड उनके नाम पर होगा. अभी रिकार्ड तेंदुलकर के नाम पर है जिन्होंने 259 पारियों में यह उपलब्धि हासिल की थी. कोहली ने 211 मैचों में 203 पारियां खेली हैं. कोहली से पहले विश्व के 12 बल्लेबाजों ने वनडे में 10,000 रन पूरे किये हैं. इनमें भारत के चार बल्लेबाज तेंदुलकर (18,426 रन), सौरव गांगुली (11,363), राहुल द्रविड़ (10,889) और महेंद्र सिंह धोनी (10,123) शामिल हैं. Also Read - पैरेंट्स बनने के बाद पहली बार मीडिया के सामने आए विराट-अनुष्का, बेबी विरूष्का नहीं आई नजर

धोनी ने भारत की तरफ से हालांकि 9949 रन बनाये हैं और उन्हें अपनी राष्ट्रीय टीम की तरफ से वनडे में 10,000 रन पूरे करने के लिये 51 रन की दरकार है. धोनी ने 2007 में एशिया एकादश की तरफ से खेलते हुए अफ्रीका एकादश के खिलाफ तीन मैचों में 174 रन बनाये थे जिससे वह हाल में समाप्त हुए एशिया कप के दौरान ‘दस हजारी’ क्लब में शामिल हो गये थे. Also Read - ICC Test Batting Rankings: मार्नस लाबुशेन से भी पिछड़े Virat Kohli, Rishabh Pant ने किया कमाल

कोहली को स्वदेश में 4,000 वनडे रन पूरे करने के लिये भी 170 रन की दरकार है. अगर वह इस मुकाम पर पहुंचते हैं तो तेंदुलकर (6976) और धोनी (4216) के बाद यह उपलब्धि हासिल करने वाले तीसरे भारतीय बल्लेबाज बन जाएंगे. दुनिया में अब तक केवल नौ बल्लेबाजों ने अपनी घरेलू सरजमीं पर 4,000 से अधिक रन बनाये हैं. कोहली ने 2018 में अब तक 749 रन बनाये हैं और वह छठी बार एक कैलेंडर वर्ष में 1,000 से अधिक रन बनाने की कोशिश करेंगे.