नई दिल्ली : ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सिडनी में खेले गए वनडे मैच में भारत को 34 रन से हार का सामना करना पड़ा. सीरीज का पहला वनडे हारने के बाद भारतीय कप्तान विराट कोहली ने रोहित शर्मा और महेन्द्र सिंह धोनी की तारीफ की. हालांकि वो टीम के दूसरे बल्लेबाजों ने से नाखुश हैं. कोहली ने शिखर धवन और अंबाती रायडू के बिना खाता खोले आउट होने का भी जिक्र किया. उन्होंने यह भी कहा कि टीम इंडिया सिडनी वनडे के नतीजे से परेशान होने की बजाय हार के कारणों पर काम करेगी.

कोहली ने मैच के बाद कहा, ”रोहित ने बेहतरीन पारी खेली और धोनी ने उनका अच्छा साथ दिया, लेकिन मुझे लगता है कि जिस तरह का मैच का टेम्पो था उसमें हम और अच्छा कर सकते थे. दोनों ने मैच को गहराई में पहुंचा दिया था, लेकिन धोनी उसी जगह आउट हो गए. इससे रोहित पर दवाब आ गया. एक और अच्छी साझेदारी होती तो मैच हमारे नाम होता, लेकिन शुरुआत में तीन विकेट गिरना सबसे बड़ी समस्या रही और ऑस्ट्रेलिया ने हमें वहां से वापसी नहीं करने दी.”

सिडनी में ‘सिक्सर किंग’ बने रोहित शर्मा, डिविलियर्स को पछाड़ रिकॉर्ड किया अपने नाम

भारतीय कप्तान ने रायडू और धवन का जिक्र करते हुए कहा, ”रायडू को अच्छी गेंद मिली थी. जब कि धवन पहली ही गेंद पर आउट हो गए. मैंने भी आराम से गेंद को हिट किया, लेकिन गेंद सीधे फील्डर के हाथ में चली गई. ओडीआई क्रिकेट में यह सब होता है और यहां आप शॉट खेलना बंद नहीं कर सकते हैं.” उन्होंने कहा, ”हमें लगता है कि आज ऑस्ट्रेलिया ने अच्छा खेल दिखाया. हम नतीजे को लेकर चिंतित नहीं होंगे. हमें हार के कारणों का पता लगाकर उन पर काम करने की जरूरत है.”

रोहित ने 22वां वनडे शतक लगा तोड़ा वर्ल्ड रिकॉर्ड, ऑस्ट्रेलिया में ऐसा करने वाले पहले खिलाड़ी

बता दें कि ऑस्ट्रेलिया ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 50 ओवर में 5 विेकेट खोकर 288 रन बनाए. इसके जवाब में भारतीय टीम 50 ओवर में 9 विकेट खोकर 254 रन ही बना सकी. भारत के लिए रोहित शर्मा ने 129 गेंदों का सामना करते हुए 10 चौकों और 6 छक्कों की मदद से 133 रन बनाए. जब कि शिखर धवन बिना खाता खोले आउट हो गए. कोहली ने 3 रन बनाए. अंबाती रायडू भी बिना खाता खोले आउट हो गए. धोनी ने 996 गेंदों का सामना करते हुए 3 चौकों और एक छक्के की मदद से 51 रन बनाए. जब कि भुवनेश्वर कुमार 29 रन बनाकर नाबाद रहे.