नई दिल्ली : वेस्टइंडीज के खिलाफ घरेलू वनडे सीरीज में 3-1 से शानदार जीत दर्ज करने वाली भारतीय कप्तान विराट कोहली अब टीम के खिलाड़ियों की की प्रशंसा करते नहीं थक रहे हैं. ये वही विराट हैं जो वेस्टइंडीज के खिलाफ 24 अक्टूबर को विशाखापट्टनम में हुए मैच के टाई होने और 27 अक्टूबर को पुणे में खेले गए मैच में टीम इंडिया के हारने पर नाराजगी जाहिर की थी. पुणे के मैच में उन्होंने शतक लगाया था लेकिन उसमें भारत को वेस्टइंडीज से 43 रन से हार का सामना करना पड़ा था. Also Read - एशिया कप 2020 अगले साल जून तक के लिए हुआ स्‍थगित, ACC ने कहा- हमने…

Also Read - अय्यर ने विराट को खिलाया मां के हाथ का डोसा, चहल ने रखी 1400 KM दूर बिरयानी भिजवाने की डिमांड

उसके बाद विराट ने कहा था कि हमारे बल्लेबाज कोई बड़ी साझेदारी नहीं कर पाए और इसलिए टीम टारगेट नहीं हासिल कर पाई. उस मैच में हार के बाद विराट ने हार्दिक पांड्या और केदार जाधव को याद किया था. ये दोनों निचले क्रम में बल्लेबाजी करते हैं. कोहली ने कहा था कि हमारे पास ये दोनों होते को टीम को संकट से उबार लेते. Also Read - On This Day: न्यूजीलैंड के खिलाफ मिली हार से अब तक उबर नहीं पाए धोनी, वापसी का इंतजार

धोनी को ड्रॉप करने पर बोले सचिन, करियर के इस पड़ाव पर ड्रेसिंग रूम से मिलती है हेल्प

जो भी पुणे के बाद लगातार दो मैचों में वेस्टइंडीज पर टीम इंडिया की शानदार जीत के बाद विराट का अपने ‘लड़कों’ पर प्यार उमड़ गया. उन्होंने जीत के बाद ट्वीट कर बधाई दी. गुरुवार को तिरुवनंतपुरम में खेले गए मैच में शानदार जीत के बाद विराट ने कहा कि सीरीज जीतने के लिए लड़कों ने शानदार कोशिश की. इस डेडिकेटेड टीम का हिस्सा बनकर काफी गर्वान्वित महसूस कर रहा हूं.

विराट कोहली 15वीं बार बने ‘मैन ऑफ द सीरीज’, जैक कालिस की बराबरी पर पहुंचे

तिरुवनंतपुरम के ग्रीनफील्ड इंटरनेशनल स्टेडियम में खेले गए मैच में टीम इंडिया के गेंदबाजों ने शानदार प्रदर्शन किया और उन्होंने केवल 104 रनों के स्कोर पर वेस्टइंडीज की पूरी टीम को पवेलियन भेज दिया. इस मैच में ऑल राउंडर रविंद्र जडेजा ने चार विकेट चटकाए. भारत ने एक विकेट खोकर इस लक्ष्य को हासिल कर लिया. वेस्टइंडीज पर 9 विकेट से मिली इस जीत में रोहित शर्मा ने 63 और विराट कोलही ने 33 रन बनाए. इन दोनों के बीच 99 रनों की साझेदारी हुई.