नई दिल्ली: इंग्लैंड के खिलाफ एजबेस्टन में पहले क्रिकेट टेस्ट में शानदार शतक जड़ने वाले भारतीय कप्तान विराट कोहली टेस्ट बल्लेबाजों की रविवार को जारी नई आईसीसी रैंकिंग में शीर्ष पर पहुंच गए. कोहली आईसीसी रैंकिंग में शीर्ष पायदान पर जगह बनाने वाले कुल सातवें भारतीय बल्लेबाज हैं. वह सचिन तेंदुलकर (जून 2011) के बाद पहले भारतीय बल्लेबाज हैं जो यह उपलब्धि हासिल करने में सफल रहे. भारत की 31 रन की हार के दौरान कोहली ने 149 और 51 रन की पारियां खेली जिससे उन्हें 31 अंक मिले और वह 32 महीने तक शीर्ष बल्लेबाज के रूप में स्टीव स्मिथ के राज को खत्म करने में सफल रहे. कोहली 67 टेस्ट के अपने करियर में पहली बार बल्लेबाजी रैंकिंग में शीर्ष पर पहुंचे हैं. Also Read - अनुष्‍का के सवालों पर क्‍लीन बोल्‍ड हुए विराट, भारतीय कप्‍तान ने शेयर किया मजेदार VIDEO

Also Read - IPL 2020 : रोहित और रैना में होगी आगे निकलने की रेस, सिर्फ धोनी ही लगा पाए हैं छक्कों का दोहरा शतक

दिसंबर 2015 से शीर्ष स्थान पर काबिज स्मिथ पर अब कोहली ने पांच अंक की बढ़त बना ली है लेकिन दुनिया के शीर्ष रैंकिंग वाले बल्लेबाज के रूप में श्रृंखला का अंत करने के लिए उन्हें बाकी मैचों में अपनी फॉर्म बरकरार रखनी होगी. तेंदुलकर जनवरी 2011 में दक्षिण अफ्रीका के जैक कालिस के साथ दुनिया के नंबर एक बल्लेबाज बने थे लेकिन जून 2011 में जमैका टेस्ट के बाद वह दूसरे स्थान पर खिसक गए क्योंकि उन्होंने वेस्टइंडीज के खिलाफ तीन टेस्ट की श्रृंखला में हिस्सा नहीं लिया था. Also Read - विराट कोहली का भावुक VIDEO, कभी भी RCB को छोड़ने के बारे में नहीं सोच सकता

‘Friendship Day’ पर हार्दिक पांड्या को झटका, टीम इंडिया की हार के बाद गर्लफ्रेंड ने झाड़ा पल्ला!

कोहली और तेंदुलकर के अलावा राहुल द्रविड़, गौतम गंभीर, सुनील गावस्कर, वीरेंद्र सहवाग और दिलीप वेंगसरकर अन्य भारतीय बल्लेबाज हैं जिन्होंने अपने करियर के दौरान नंबर एक रैंकिंग हासिल की. कोहली 934 अंक के साथ भारत के शीर्ष रैंकिंग बल्लेबाज हैं. वह अंकों की सर्वकालिक सूची में कुल 14वें स्थान पर हैं.

कोहली ने एजबेस्टन टेस्ट की शुरुआत 903 अंक के साथ की थी और वह गावस्कर से 13 अंक पीछे थे लेकिन उन्होंने हॉल ऑफ फेम में शामिल इस महान खिलाड़ी पर अब 18 अंक की बढ़त बनाई है. कोहली अगर लॉर्ड्स में दूसरे टेस्ट में भी अच्छा प्रदर्शन करते हैं तो सर्वाधिक अंक के मामले में मैथ्यू हेडन, कैलिस और एबी डिविलियर्स को पछाड़कर शीर्ष 10 में शामिल हो सकते हैं. इन तीनों के सर्वाधिक अंक 935 हैं.

इंग्लैंड के ‘खानदानी’ क्रिकेटर ने लिखी बर्मिंघम में टीम इंडिया की हार की स्क्रिप्ट

इस सूची में शीर्ष दो स्थान पर ऑस्ट्रेलिया के महान डोनाल्ड ब्रैडमैन (961) और स्टीव स्मिथ (947) शामिल हैं. पहले टेस्ट के दौरान हालांकि अन्य भारतीय बल्लेबाजों को नुकसान उठाना पड़ा है. लोकेश राहुल एक स्थान के नुकसान से 19वें जबकि अजिंक्य रहाणे तीन स्थान के नुकसान से 22वें पायदान पर हैं.

मुरली विजय और शिखर धवन क्रमश: दो और एक स्थान के नुकसान से संयुक्त 25वें स्थान पर हैं. इंग्लैंड के विकेटकीपर बल्लेबाज जानी बेयरस्टो चार स्थान के फायदे से वेस्टइंडीज के क्रेग ब्रेथवेट के साथ संयुक्त 12वें स्थान पर हैं. एलिस्टेयर कुक चार स्थान के नुकसान से 17वें जबकि बेन स्टोक्स पांच स्थान के नुकसान से 33वें स्थान पर खिसक गए हैं.

गेंदबाजों की सूची में भारतीय ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन 14 अंक हासिल करने के बाद चौथे स्थान पर चल रहे दक्षिण अफ्रीका के वर्नन फिलेंडर से सिर्फ एक अंक पीछे हैं. उन्होंने एजबस्टन टेस्ट में 62 रन देकर चार और 59 रन देकर तीन विकेट चटकाए.

ईशांत-उमेश से बैटिंग सीखेगा टीम इंडिया का टॉप ऑर्डर, कोहली ने जारी किया फरमान!

इशांत शर्मा को 19 अंक मिले और वह 25वें नंबर पर काबिज भुवनेश्वर कुमार से 13 अंक पीछे हैं. मोहम्मद शमी दो स्थान के नुकसान से 19वें पायदान पर हैं. इंग्लैंड के तेज गेंदबाज स्टुअर्ट ब्रॉड अब एक स्थान के नुकसान से 13वें पायदान पर हैं. जेम्स एंडरसन ने अपना शीर्ष स्थान बरकरार रखा है लेकिन उनके और दक्षिण अफ्रीका के कागिसो रबादा के बीच अब सिर्फ दो अंक का अंतर है.

स्टोक्स मैच में छह विकेट चटकाने के बाद चार स्थान के फायदे से 27वें पायदान पर पहुंच गए हैं. इंग्लैंड के 1000वें पुरुष टेस्ट में मैच आफ द मैच बने सैम कुरेन बल्लेबाजी रैंकिंग में 152वें स्थान से 72वें जबकि गेंदबाजी रैंकिंग में 49 स्थान के फायदे से 62वें पायदान पर पहुंच गए हैं. वह ऑलराउंडरों की सूची में 58 स्थान के फायदे से 37वें पायदान पर हैं. उन्होंने मैच में 24 और 63 रन की पारियां खेलने के अलावा कुल 92 रन देकर पांच विकेट चटकाए.