नई दिल्ली:  टीम इंडिया को इंग्लैंड के खिलाफ बर्मिंघम में खेले गए टेस्ट मुकाबले में हार का सामना करना. इस हार के बाद इंग्लैंड के पूर्व कप्तान नासिर हुसैन ने कहा कि भारतीय कप्तान विराट कोहली का पहले टेस्ट मैच में बल्लेबाज के रूप में प्रदर्शन असाधारण रहा लेकिन उन्होंने उनकी कप्तानी पर सवाल उठाये और कहा कि ‘भारत की 31 रन से हार के लिये उन्हें भी कुछ जिम्मेदारी लेनी चाहिए.’ Also Read - India vs Australia 2020-21: Sachin Tendulkar और MS Dhoni के इस रिकॉर्ड की बराबरी करना चाहेंगे Virat Kohli

Also Read - India vs Australia: 'टेस्ट में ऑस्ट्रेलिया को हराने के लिए भारत को ख्यालों से बाहर आना होगा'

हुसैन ने कहा, ‘‘कोहली का प्रदर्शन इस मैच में असाधारण रहा. जिस तरह से उन्होंने पुछल्ले बल्लेबाजों के साथ बल्लेबाजी की उसे देखते हुए उन्हें जीतना चाहिए था. उन्होंने अपने दम पर भारत को मैच में वापसी दिलायी. मेरा हालांकि तब भी मानना है कि हार के लिये उन्हें भी थोड़ी जिम्मेदारी लेनी चाहिए.’’ कोहली ने इस मुकाबले में शानदार प्रदर्शन करते हुए पहली पारी में 149 रन और दूसरी पारी में 51 रन बनाए. Also Read - भारत दौरे पर 5 टेस्ट नहीं बल्कि 5 टी20I मैच खेलेगा इंग्लैंड, गांगुली ने बताई वजह

ईशांत-उमेश से बैटिंग सीखेगा टीम इंडिया का टॉप ऑर्डर, कोहली ने जारी किया फरमान!

उन्होंने कहा, ‘‘इंग्लैंड का स्कोर सात विकेट पर 87 रन था तथा कुरेन और आदिल क्रीज पर थे और तब रविचंद्रन अश्विन को एक घंटे तक गेंदबाजी नहीं सौंपी गयी. भारत ने नियंत्रण खो दिया. उन्हें अपनी कप्तानी में पीछे मुड़कर देखना चाहिए और कहना चाहिए ‘जब मेरे पास ऐसा गेंदबाज है जिसका बायें हाथ के बल्लेबाजों के सामने औसत 19 है और बायें हाथ का 20 वर्षीय बल्लेबाज खेल रहा है तब मैंने उसे गेंदबाजी से क्यों हटाया था.’’