नई दिल्ली: दिल्ली डेयरडेविल्स और रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के बीच शनिवार को फिरोजशाह कोटला में खेले गए मैच में बैंगलोर ने 5 विकेट से जीत हासिल की. कप्तान विराट कोहली और दिग्गज खिलाड़ी एबी डिविलियर्स की शतकीय साझेदारी ने टीम को जीत दिलायी. मैच के बाद विराट कोहली ने अपने साथी खिलाड़ी डिविलियर्स की तारीफ की. उन्होंने कहा कि मैं डिविलियर्स के साथ बल्लेबाजी करके खुद को सम्मानित महसूस कर रहा हूं. यह टारगेट थोड़ा बड़ा था, लेकिन डिविलियर्स ने पारी के बीच में मुझे आकर कहा कि हम लक्ष्य हासिल कर लेंगे.

मुकाबले में शुरुआती दो खिलाड़ियों के आउट होने के बाद कोहली और डिविलियर्स बल्लेबाजी करने आए. इस दौरान दोनों ने शतकीय साझेदारी निभाई. मैच के बाद कोहली ने कहा, मैं बहुत ही खुश हूं. डिविलियर्स के साथ बल्लेबाजी करके अच्छा लगा. मैं इससे पहले भी उनके साथ कई बार इस तरह की पारी खेल चुका हूं. यह थोड़ा कठिन लक्ष्य था. लेकिन डिविलियर्स ने पारी के बीच में मुझे आकर कहा कि इसे हम हासिल कर लेंगे. उन्होंने मुझे अच्छी बल्लेबाजी करने में मदद की. मैं उनके साथ बल्लेबाजी करके खुद सम्मानित महसूस कर रहा हूं.” 

VIDEO: हरभजन सिंह के गुस्से का शिकार हुए बेन स्टोक्स, उठाना पड़ा बड़ा नुकसान

उन्होंने टीम के खिलाड़ियों का जिक्र करते हुए कहा, हमने ज्यादा अच्छी गेंदबाजी नहीं की. हालांकि सभी का योगदान अहम रहा. इस स्थिति में पहले गेंदबाजी करने का फैसला सही था, क्यों कि बल्लेबाज के लिए जिम्मेदारी निभाना आसान हो जाता है. आप मैच को लगभग अपने हिसाब से सेट कर लेते हैं. कोहली ने दिल्ली के दर्शकों का जिक्र करते हुए कहा, दिल्ली में आरसीबी के लिए इतना समर्थन देखर हैरान हूं. यह हमारे लिए बेहद खुशी की बात है कि यहां भी हमारा समर्थन करने वाले बहुत लोग हैं.

क्रिकेट के भविष्य पर मंडरा रहा है खतरा, सौरव गांगुली ने जताई चिंता

बता दें कि इस मुकाबले में दिल्ली ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 20 ओवर में 4 विेकेट खोकर 181 रन बनाए. इस दौरान ऋषभ पंत ने 61 रन और अभिषेक शर्मा ने 46 रन की शानदार पारी खेली. इसके जवाब में आरसीबी के लिए पार्थिव पटेल और मोईन अली ओपनिंग करने आए. लेकिन ये बल्लेबाज ज्यादा क्रीज पर नहीं टिक सके और पवेलियन लौटे. इसके बाद कोहली और डिविलियर्स ने दमदार बल्लेबाजी करते हुए शतकीय साझेदारी बनाई. इस दौरान कोहली ने 40 गेंदों का सामना करते हुए 70 रन बनाए. डिविलियर्स ने 37 गेंदों का सामना करते हुए नाबाद 72 रन बनाए.