कूलिज (एंटीगा). दुनिया के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाजों में शुमार भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में 11 साल पूरे करने पर कहा कि उन्होंने कभी इससे अधिक की उम्मीद नहीं की थी. कोहली ने 2008 में अंतरराष्ट्रीय करियर की शुरुआत की. उन्होंने सोशल मीडिया पर अपनी भावनाओं को व्यक्त किया. उन्होंने 18 अगस्त 2008 को श्रीलंका के खिलाफ दांबुला में वनडे के रूप में अपना पहला अंतरराष्ट्रीय मैच खेला था.

कोहली ने अपने टि्वटर हैंडल पर दो तस्वीरों को साझा किया है. उन्होंने साथ में लिखा है, ‘‘इसी दिन 2008 में एक किशोर के रूप में शुरुआत करने से लेकर 11 साल की यात्रा पूरी करने तक, मैंने सपने में भी नहीं सोचा था कि ईश्वर मुझ पर इतना मेहरबान होगा. आप सभी को अपने सपनों को सच करने और सही रास्ते में आगे बढ़ने की शक्ति मिले. सदैव आभारी.’’

उन्होंने जो तस्वीरें साझा की हैं उनमें पहली श्रीलंका के खिलाफ पदार्पण मैच की है, जबकि दूसरी एंटीगा में उनके होटल के कमरे की है. भारत अभी वेस्टइंडीज के दौरे पर है जहां उसे 22 अगस्त से एंटीगा में पहला टेस्ट मैच खेलना है. इससे पहले भारत ने टी20 और वनडे श्रृंखला अपने नाम की थी.

कोहली ने पदार्पण करने के बाद पीछे मुड़कर नहीं देखा. वह अब तक 77 टेस्ट मैचों में 6613 रन बना चुके हैं जिसमें 25 शतक शामिल हैं. उन्होंने 239 वनडे में 43 शतकों की मदद से 11520 रन बनाये हैं. उनके नाम पर अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में कुल 68 शतक दर्ज हैं और वह एक दशक में 20,000 से अधिक रन बनाने वाले दुनिया के पहले बल्लेबाज हैं.