नई दिल्ली : ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टीम इंडिया की टेस्ट जीत के बाद कप्तान विराट कोहली ने चेतेश्वर पुजारा की जमकर तारीफ की. उन्होंने मयंक अग्रवाल और ऋषभ पंत के साथ गेंदबाजों के प्रदर्शन की भी सराहना की. कोहली का कहना है कि पुजारा परिस्थितियों को समझते हैं. वहीं उन्होंने गेंदबाजों का जिक्र करते हुए कहा कि जब बल्लेबाज अच्छे रन बना लेते हैं तो हमारे गेंदबाज आगे बढ़कर अच्छा प्रदर्शन करते हैं. गेंदबाजों ने पूरे साल मेहनत की है.

कोहली ने इस सीरीज में बेहतरीन प्रदर्शन करने वाले चेतेश्वर पुजारा की जमकर तारीफ की. उन्होंने युवा मयंक अग्रवाल और ऋषभ पंत की भी प्रशंसा की. उन्होंने कहा, ‘‘मैं पुजारा का विशेष जिक्र करना चाहता हूं. वह ऐसा खिलाड़ी है जो हमेशा परिस्थितियों को स्वीकार करता है. वह बहुत अच्छा इंसान है. मैं मयंक अग्रवाल का भी खास जिक्र करना चाहूंगा. बॉक्सिंग डे पर पदार्पण करके उसने बेहतर आक्रमण के सामने शानदार पारी खेली. ऋषभ पंत भी अपने अंदाज में बल्लेबाजी करके आक्रमण पर हावी रहे.’’

कप्तान कोहली का कॉन्फिडेंस, कहा- किसी को भी कहीं भी हराने का रखते हैं दम

गेंदबाजों ने साल भर अच्छा प्रदर्शन किया और कोहली ने फिर से उनकी तारीफ की. उन्होंने कहा, ‘‘हम जानते हैं कि एक बार जब बल्लेबाज अच्छे रन बना लेते हैं तो हमारे गेंदबाजों का जवाब नहीं. गेंदबाजों ने केवल इसी श्रृंखला में नहीं बल्कि पिछले दो दौरों में भी जिस तरह से गेंदबाजी की वैसा मैने भारतीय क्रिकेट में पहले कभी नहीं देखा. वे पिच को नहीं देखते और यह नहीं सोचते कि इससे उन्हें मदद नहीं मिलेगी. यह भारतीय क्रिकेट के लिये नयी चीज है जो स्वदेश में अन्य गेंदबाजों के लिये भी सीख है. ’’

पुजारा को मिला शानदार प्रदर्शन का ईनाम, चुने गए ‘मैन ऑफ द सीरीज’

कोहली ने इस जीत को टीम के लिये शुरुआती कदम बताया जो अपनी औसत उम्र के लिहाज से अब भी युवा है. उन्होंने कहा, ‘‘निश्चित तौर पर यह हमारे लिये शुरुआती प्रयास है. टीम की औसत उम्र काफी कम है. हमारे लिये सबसे अहम बात यह है कि हमें खुद पर भरोसा है. हमारा इरादा हमेशा अच्छा होता है और इससे भारतीय क्रिकेट आगे बढ़ रहा है. ’’