नई दिल्ली : टीम इंडिया और वेस्टइंडीज के बीच पुणे में खेले गए तीसरे वनडे में भारत को 43 रन से हार का सामना करना पड़ा. वेस्टइंडीज ने इस जीत के साथ ही पांच वनडे मैचों की सीरीज में 1-1 की बराबरी कर ली. कप्तान विराट कोहली ने शानदार बैटिंग करते हुए शतक जड़ा. लेकिन उनका शतक इस बार भारत को जीत नहीं दिला सका. लेकिन अहम यह रहा कि कोहली ने यह लगातार तीसरा शतक जड़ा. वो ऐसा करने वाले भारत के पहले खिलाड़ी बन गए हैं. मैच के हारने के बाद कोहली ने कहा कि जब हार्दिक पांड्या या केदार जाधव टीम में रहते हैं तो हमारे से बॉलिंग के लिए एक्स्ट्रा ऑप्शन रहता है, जो कि सहायक साबित होता है.

कोहली ने पुणे वनडे में हार के बाद कहा, ”जब हार्दिक और केदार एक साथ खेलते हैं तो हमें बॉलिंग के लिए एक्स्ट्रा ऑप्शन मिल जाता है. केदार अगर मैच में वापसी करेंगे. उनके आने से हमारी टीम का बैलेंस बन जायेगा. हम अगले मैच में एक गेंदबाज कम करेंगे. लेकिन हमारे पास ऑप्शन के तौर पर छह गेंदबाज उपलब्ध होंगे.”

300 वनडे पूरे करने पर ब्रॉड को कोहली ने दिया मोमेंट, पुणे वनडे में हासिल की उपलब्धि

कप्तान कोहली ने वेस्टइंडीज की तारीफ करते हुए कहा, ”हम योजनाओं पर अच्छी तरह से काम नहीं कर सके. वेस्टइंडीज की टीम विस्फोटक प्रदर्शन करने में सक्षम है, वो किसी को भी हराने में सक्षम है. वो इस जीत के हकदार हैं.”

विराट कोहली ने लगाई शतकों की हैट्रिक, ऐसा करने वाले टीम इंडिया के पहले खिलाड़ी

गौरतललब है कि टॉस हारकर पहले बैटिंग करने उतरी वेस्टइंडीज ने 283 रन बनाए. इसके जवाब में भारतीय टीम 240 रन पर समिट गई. भारत की ओर से रोहित शर्मा और शिखर धवन ओपनिंग करने आए. रोहित 8 रन और धवन 35 रन बनाकर आउट हुए. जब कि अंबाती रायडू 22 रन और रिषभ पंत 24 रन बनाकर आउट हुए. महेन्द्र सिंह धोनी 7 रन और भुवनेश्वर कुमार 10 रन ही बना सके. कप्तान कोहली ने शतकीय पारी खेली, जो कि भारत को जीत नहीं दिला सकी.