नई दिल्ली : भारत और इंग्लैंड के बीच टेस्ट सीरीज का पांचवां और आखिरी टेस्ट मैच लंदन के ओवल में खेला जा रहा है. इस मुकाबले के लिए टीम इंडिया ने प्लेइंग इलेवन में दो अहम बदलाव किए हैं. इसमें हार्दिक पांड्या और रविचन्द्रन अश्विन की जगह हनुमा विहारी और रविन्द्र जडेजा को प्लेइंग इलेवन में शामिल किया गया.

हनुमा यह पहला इंटरनेशनल टेस्ट मैच खेल रहे हैं. उन्होंने घरेलू मैचों में प्रभावी प्रदर्शन किया है, जिसे देखते हुए टीम इंडिया में मौका मिला. लेकिन अब चयनकर्ताओं को आलोचना सुननी पड़ रही है. क्यों कि करुण नायर को नजर अंदाज कर हनुमा को मौका दिया गया.

दरअसल इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज गंवा चुकी भारतीय टीम के अच्छे समापन का मात्र एक मौका बचा है. लिहाजा वह हर स्थिति में यह मैच जीतना चाहती है. इसके लिए उन्होंने प्लेइंग इलेवन में बदलाव किया. पांड्या अभी तक कुछ खास नहीं कर पाए थे. इस वजह से उन्हें बाहर कर हनुमा विहारी को मौका दिया गया. लेकिन हनुमा को प्लेइंग इलेवन में शामिल करने के बाद चयनकर्ताओं और कप्तान पर सवालिया निशान लगाया जा रहा है. क्यों उन्होंने दमदार बल्लेबाज करुण नायर को नजरअंदाज कर दिया.

INDvsENG: टीम इंडिया की प्लेइंग इलेवन में बदलाव, हनुमा विहारी खेलेंगे पहला मैच

टीम इंडिया के पूर्व खिलाड़ी आकाश चोपड़ा ने नायर को नजरअंदाज करने की आलोचना की. उन्होंने कहा कि यह कोई भी करुण नायर के खेलने की संभावना पर बातनहीं कर रहा. अगर बारत 6 बल्लेबाजों के साथ खेलना चाहता है तो नायर पहली पसंद होने चाहिए.

वहीं संजय दीक्षित ने ट्वीट कर विराट कोहली की आलोचना की. उन्होंने अपने ऑफीशियल ट्विटर हैंडल पर लिखा, भारतीय टीम की हार का कारण विराट कोहली का अभिमानी स्वभाव है. वह अपने पसंदीदा खिलाड़ियों के साथ खेलते हैं. पहले टेस्ट मैच में पुजारा को शामिल नहीं किया, अनफिट अश्विन को चौथे टेस्ट मैच में जगह दी और अब करुण नायर को छोड़कर विहारी को टीम में शामिल किया. यह कुछ उदाहरण हैं. महान बल्लेबाज, खराब कप्तान.

INDvsENG: अजिंक्य रहाणे ने टीम इंडिया की बैटिंग लाइन-अप पर उठाया सवाल, इन्हें बताया हार का दोषी

गौरतलब है कि नायर अच्छे बल्लेबाज हैं. उन्होंने टीम इंडिया की ओर से 7 पारियों में 374 रन बनाए हैं. इसमें एक शतक शामिल हैं. करुण ने भारतीय टीम के लिए एक नाबाद तिहरा शतक भी जड़ा है. अहम बात यह भी है कि टेस्ट मैचों में उनका 62.33 का औसत है. हालांकि हनुमा ने घरेलू मैचों में शानदार प्रदर्शन किया है. इसके अलावा वो इंडिया ए की तरफ से भी कुछ शतकीय पारियां खेल चुके हैं.