दांबुला।

भारतीय कप्तान विराट कोहली ने 2019 वर्ल्ड कप को ध्यान में रखते हुए दो साल के समय में कुछ खिलाड़ियों को कुछ निश्चित भूमिकाएं देना चाहते हैं. कोहली से जब पूछा गया कि क्या वह प्रतिद्वंद्वी को देखते हुए अपने खिलाड़ियों का इस्तेमाल करेंगे तो उन्होंने कहा, ‘हमारे लिए यह अहम नहीं है कि हम किस प्रतिद्वंद्वी के खिलाफ खेल रहे हैं. आप किसी का चयन कर, उसे नहीं चुन सकते. मैं इसमें विश्वास नहीं करता और बतौर टीम आप इस पर भरोसा नहीं कर सकते.’

उन्होंने कहा, ‘वर्ल्ड कप के लिए दो साल का समय है और अब समय है कि खिलाड़ियों को कुछ निश्चित भूमिकाएं दी जाएं ताकि वे इसके अनुरूप ढल सकें और समझ सकें कि हमें क्या करने की जरूरत है.’ कप्तान ने पुष्टि की कि लोकेश राहुल निश्चित रूप से मध्यक्रम में शामिल हैं जबकि केदार जाधव और मनीष पांडे मध्यक्रम में बचे हुए स्थान के लिए चुनौती पेश करेंगे.

मुख्य चयनकर्ता एमएसके प्रसाद ने कहा था कि केएल राहुल चौथे स्थान पर बल्लेबाजी करेंगे लेकिन कप्तान किसी भी तरह की चीज निश्चित नहीं करना चाहते। उन्होंने कहा, ‘केएल राहुल निश्चित रूप से मध्यक्रम में खेलेंगे. हम भविष्यवाणी नहीं करेंगे या कोई स्थान सुनिश्चित नहीं करेंगे कि हम वनडे या टी20 क्रिकेट में क्या करने जा रहे हैं. कोई भी किसी भी स्थान पर बल्लेबाजी के लिए जा सकता है. हम यही करने की कोशिश कर रहे हैं.’ उन्होंने संकेत दिया कि पाण्डेय को इंतजार करना पड़ सकता है.

कोहली ने कहा, ‘मनीष जैसे खिलाड़ी ने काफी अच्छा प्रदर्शन किया है और मिले मौकों का पूरा फायदा उठाया है. उन्होंने ऑस्ट्रेलिया में भी शतक जड़ा और हम उनकी प्रतिभा के बारे में जानते हैं और यह भी कि वह मैदान पर कैसा प्रदर्शन करते हैं. वह ‘सुपर फिट’ खिलाड़ी हैं और उनका भविष्य उज्जवल है. इसलिए उनका निश्चित रूप से समर्थन किया जाएगा.’

कप्तान ने कहा, ‘केदार जाधव समेत सभी तीन खिलाड़ियों में से कोई दो मध्यक्रम क्रम के दो स्थान भरेंगे. मैं कहूंगा कि किसी के भी स्थान की गारंटी नहीं है. जब तक स्वस्थ प्रतिस्पर्धा है, हर कोई एक दूसरे को चुनौती पेश करता रहेगा और यह भारतीय क्रिकेट के लिए स्वास्थ्यवर्धक है.’ वेस्टइंडीज में विजयी पारियां खेलने के बावजूद अजिंक्य रहाणे को तीसरे सलामी बल्लेबाज के तौर पर इंतजार करना होगा क्योंकि शिखर धवन अभी अच्छी फॉर्म में हैं.

कोहली ने कहा, ‘शिखर धवन बहुत शानदार खिलाड़ी हैं. शिखर और रोहित ने एक साथ मिलकर जो उपलब्धियां हासिल की हैं, वह हम सभी जानते हैं. हम उनकी काबिलियत जानते हैं और जिंक्स (रहाणे का उपनाम) भी इस समय यह समझते हैं, वह टीम में तीसरा सलामी बल्लेबाज हैं.’ कोहली ने स्वीकार किया कि रहाणे को बैटिंग क्रम में ऊपर-नीचे किया जाता है जो थोड़ा ठीक नहीं है.

उन्होंने कहा, ‘हम निश्चित रूप से उनका समर्थन करते हैं क्योंकि उन्हें बल्लेबाजी क्रम में ऊपर नीचे किया जाता रहा है, जो उस खिलाड़ी के लिए अच्छा नहीं है जो छोटे प्रारूप में पारी का आगाज करना पसंद करता हो. देखिए उन्होंने वेस्टइंडीज में मिले मौके का फायदा उठाया और वह मैन ऑफ द सीरीज रहे.’