नई दिल्ली : महेन्द्र सिंह धोनी ऐसे इकलौत कप्तान हैं जिन्होंने भारत को टी-20 विश्व कप (2007), विश्व कप (2011) और चैम्पियंस ट्रॉफी (2013) में जीत दिलायी. उनके इस रिकॉर्ड को तोड़ना किसी भी कप्तान के लिए आसान नहीं होगा. धोनी दिग्गज खिलाड़ी होने के साथ-साथ कप्तानी का भी अनुभव रखते हैं. लिहाजा वो विश्व कप 2019 में भारत के लिए एक्सफैक्टर साबित होंगे. श्रीलंका के पूर्व महान खिलाड़ी कुमार संगकारा का भी कहना है कि विश्व कप में धोनी का खेलना भारत के लिए जरूरी होगा. उन्होंने यह भी बताया कि विराट कोहली के लिए धोनी का साथ क्यों जरूरी है. Also Read - शिखर धवन ने अंतरराष्‍ट्रीय क्रिकेट में पूरे किए 10 साल, फैन्‍स के साथ इस तरह शेयर की स्‍पेशल मूमेंट की खुशी

Also Read - Happy Birthday Virender Sehwag: टेस्ट क्रिकेट में 2 ट्रिपल सेंचुरी जड़ने वाले इकलौते भारतीय हैं 'नजफगढ़ के नवाब', यहां देखें उनके कुछ चुनिंदा रिकॉर्डस

कुमार संगकारा ने एक न्यूज चैनल से बात करते हुए धोनी का जिक्र किया. उन्होंने कहा, जब विश्व कप की बात करतें हैं तो अनुभव का होना बहुत जरूरी होता है. मुझे लगता है कि धोनी निश्चित रूप से विश्व कप के लिए भारत की 15 सदस्यी टीम का हिस्सा होंगे. विराट कोहली मैदान पर बहुत ही शांत स्वभाव के व्यक्ति की जरूरत होगी. जब विश्व कप के दौरान मुश्किल परिस्थिति होगी तब वो काम आयेंगे. Also Read - IPL 2020: लगातार 7वीं हार के बाद CSK के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी बोले-हमें परिणाम नहीं बल्कि...

ऋषभ को धवन की जगह मिले रोहित के साथ ओपनिंग का मौका, शेन वॉर्न की भारत को सलाह

संगकारा का कहना है कि अनुभव का कोई विकल्प नहीं होता है. उनका कहना है कि धोनी टीम इंडिया के अटूट हिस्से हैं और कप्तान विराट कोहली को विश्व कप के दौरान उनकी बहुत जरूरत होगी. बता दें कि विश्व कप से पहले भारत को सिर्फ 5 वनडे मैच खेलने हैं. ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ भारतीय टीम 2 मार्च से वनडे सीरीज खेलेगी. जबकि इसके बाद आईपीएल 2019 का आयोजन होगा. इसके बाद विश्व कप खेला जायेगा. विश्व कप का पहला मैच 30 मई को इंग्लैंड और दक्षिण अफ्रीका के बीच लंदन में खेला जायेगा.