साउथैम्प्टन : आईसीसी क्रिकेट वर्ल्ड कप (World Cup 2019) शुरू हुए छह दिन हो चुके हैं. भारत को छोड़ सभी टीमें मैच खेल चुकी हैं. दक्षिण अफ्रीका, अफगानिस्तान और बांग्लादेश ने तो दो-दो मैच खेल लिए हैं. लेकिन टीम इंडिया (Team India) को अब भी इस टूर्नामेंट में दस्तक देनी है. आखिर वर्ल्ड कप (ICC Cricket World Cup 2019) में भारत के मैच इतनी देरी से क्यों शुरू हो रहे हैं. भारतीय टीम पर इस शेड्यूल का क्या असर होगा. ऐसे सवालों पर भारतीय कप्तान विराट कोहली बेहद सहज नजर आए. उन्होंने तो यह भी कहा कि देर से मैच होना भारतीय टीम के लिए फायदे की बात है.

भारत का विश्व कप में पहला मैच बुधवार (5 जून) को दक्षिण अफ्रीका (India vs South Africa) से होने जा रहा है. मैच से एक दिन पहले भारतीय कप्तान विराट कोहली ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की. उन्होंने कहा, ‘हम काफी दिनों से इंग्लैंड में हैं. खुशी की बात है कि अंतत: अब हम मैच खेलने जा रहे हैं.’ भारतीय टीम 22 मई को इंग्लैंड पहुंची थी. उसने यहां दो वार्मअप मैच खेले हैं. इसके अलावा चार दिन नेट प्रैक्टिस की है. पांचवें दिन की प्रैक्टिस बारिश की भेंट चढ़ गई.

भारत का मैच काफी दिनों बाद आया है. क्या इसका खेल पर कोई असर होगा? इस सवाल पर कोहली ने कहा, ‘मुझे लगता है कि इससे टीम को थोड़ा फायदा ही होगा. हमें इस दौरान यहां का खेल समझने का मौका मिला. हमने देखा कि जब बादल छाए रहते हैं और जब धूप होती है, इन दोनों परिस्थितियों में खेल कैसे बदलता है.’

दक्षिण अफ्रीका को करारा झटका, डेल स्टेन वर्ल्डकप 2019 से बाहर

विराट कोहली ने कहा, ‘यहां जब सुबह 10:30 बजे खेल शुरू होता है और जब दोपहर होती है, इन दोनों वक्त के खेल और परिस्थितियों में काफी अंतर होता है. हमने देखा कि इस दौरान खेल की गति कैसे बदलती है और अभी तक अन्य टीमों ने इन परिस्थितियों में अपने खेल में क्या बदलाव किया. उनकी अप्रोच क्या रही. इस आधार पर मैं कह सकता हूं कि हमें पिछले छह दिनों में काफी कुछ देखने और सीखने को मिला है, जो हमें मैच में काम आएगा.’