नई दिल्ली. वर्ल्ड क्रिकेट में विराट अपने परफेक्शन के लिए जाने जाते हैं. क्रिकेट के मैदान पर वो शायद ही कभी कोई गलती करते देखे जाते हैं. लेकिन, वेस्टइंडीज के खिलाफ वाइजैग वनडे में उनसे एक बड़ी गलती हो गई, जिसका खामियाजा टीम इंडिया को मैच टाई होने के तौर पर चुकाना पड़ा. दूसरे लहजे में कहें तो वाइजैग वनडे टाई न हुआ होता और भारत जीत भी जाता अगर कप्तान कोहली ने वो गलती न की होती.

‘प्री-प्लान था 10000 रन बनाना’, वाइजैैग वनडे के बाद विराट कोहली का खुलासा

‘विराट गलती’ से मैच टाई

दरअसल, वाइजैग वनडे में बल्लेबाजी के दौरान विराट कोहली ने एक रन शॉर्ट लिया. विराट से ये गलती मैच के 11वें ओवर में हुई. विराट कोहली ने तेजी से दो रन चुराने के चक्कर में एक रन शॉर्ट लिया. अंपायर ने विराट कोहली की इस गलती को पकड़ लिया और उनका एक रन काट लिया गया. इस गलती का कोहली को तब काफी अफसोस भी हुआ और उन्‍होंने खुद पर नाराजगी भी जाहिर की. लेकिन उन्हें ये पता नहीं था कि उनकी इस गलती का असर मैच के फैसले पर भी पड़ेगा.

WorldRecord: कोहली ने वनडे में बनाए सबसे तेज 10 हजार रन, सचिन-गांगुली समेत कई दिग्गज पीछे छूटे

1 रन का नतीजे पर असर

वेस्टइंडीज के खिलाफ पहले बैटिंग करते हुए भारत ने 6 विकेट खोकर 50 ओवरों में 321 रन बनाए. जवाब में वेस्टइंडीज ने भी 7 विकेट खोकर इतने ही रन बनाए. मैच की आखिरी गेंद पर जीत के लिए विंडीज को 5 रन चाहिए थे और स्कोर लेवल करने के लिए 4 रन. होप ने चौका जडकर मैच को टाई करा दिया. अब अगर कोहली के वो एक रन शॉर्ट न पड़ते तो इस मैच का नतीजा भारत के फेवर में आ सकता था.