भारतीय टीम के पूर्व विस्‍फोटक बल्‍लेबाज वीरेंद्र सहवाग (Virender Sehwag) का कहना है कि क्रिकेट में वो जो कुछ भी कर पाए हैं उसका श्रेय सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) को जाता है. भारतीय टीम के पूर्व कप्‍तान सौरव गांगुली हाल ही में बीसीसीआई (BCCI) के 39वें अध्‍यक्ष बने हैं.

पढ़ें:- आयरलैंड को मिला ऑस्‍ट्रेलिया का टिकट, टी20 विश्‍व कप के लिए किया क्‍वालीफाई

इंडियन एक्‍सप्रेस से बातचीत के दौरान गांगुली ने कहा, “मुझे टॉप ऑर्डर का बल्‍लेबाज बनाने में सौरव गांगुली ने बड़ी भूमिका निभाई. उन्‍होंने मुझे ओपन करने के लिए पूछा. इसपर मेरा जवाब था कि आप खुद क्‍यों नहीं ओपन करते.”

दादा ने मुझे जवाब दिया, “टीम में सलामी बल्‍लेबाज की जगह खाली पड़ी है. अगर तुम सलामी बल्‍लेबाज बनते हो तो टीम में इस स्‍थान पर तुम्‍हारी जगह पक्‍की हो जाएगी. अगर तुम मध्‍यक्रम में ही बल्‍लेबाजी करना चाहते हो तो टीम में जगह बनाने के लिए किसी अन्‍य बल्‍लेबाज के चोटिल होने का इंतजार करना होगा.”

पढ़ें:- आयरलैंड को मिला ऑस्‍ट्रेलिया का टिकट, टी20 विश्‍व कप के लिए किया क्‍वालीफाई

सहवाग ने बताया, “सौरव गांगुली ने मुझे स्‍पष्‍ट तौर पर कहा तुम्‍हें बतौर सलामी बल्‍लेबाज 3-4 मौके दिए जाएंगे. अगर इसके बावजूद भी तुम इस स्‍थान पर कामयाब नहीं होते हो तो फिर से तुम्‍हें मध्‍यक्रम में ही मौके दिए जाएंगे.”

“मैंने जो भी क्रिकेट में पाया है वो सौरव गांगुली की वजह से ही है. उन्‍होंने मुझे चीजें पहले ही स्‍पष्‍ट कर दी थी. इस तरह की अप्रोच से ही आप अपने कप्‍तान पर भरोसा कर पाते हैं. इससे मुझे काफी आत्‍मविश्‍वास मिला. मुझे लगा कि जब दादा मुझपर इतना भरोसा कर रहे हैं तो मुझे भी कोशिश करनी चाहिए.”