राजकोट टी20 में रोहित शर्मा ने 85 रन की मैच विनिंग पारी खेलकर सीरीज में भारत को 1-1 से बराबरी पर पहुंचाया.
भारतीय टीम के दिग्‍गज सलामी बल्‍लेबाज वीरेंद्र सहवाग का मानना है कि जब तेजी से रन बनाने की बात आती है तो इस मामले में भारतीय टीम के कार्यवाहक कप्‍तान रोहित शर्मा कप्‍तान विराट कोहली से भी आगे नजर आते हैं.

पढ़ें:- रिषभ पंत की बार-बार गलतियों पर श्रीलंकाई दिग्‍गज विकेटकीपर बल्‍लेबाज की सलाह, बोले…

राजकोट टी20 में रोहित शर्मा ने 43 गेंद पर 85 रन की विस्‍फोटक पारी खेलकर टीम इंडिया को जीत दिलाई. उन्‍होंने अपनी पारी में छह छक्‍के और छह चौके लगाए. इस जीत ने साथ ही भारत बांग्‍लादेश के खिलाफ टी20 सीरीज में 1-1 से बराबरी पर पहुंचा गया है.

वेबसाइट क्रिकबज में वीरेंद्र सहवाग ने लिखा, “एक ओवर में तीन-चार छक्के मारना और 45 गेंदों पर 80-90 रन बनाना एक कला है जो मैंने विराट में भी उतनी निरंतरता से नहीं देखी जितनी रोहित में है.”

सहवाग ने कहा, “सचिन हमेशा कहा करते थे कि जो मैं मैदान पर कर सकता हूं वो आप क्यों नहीं कर सकते? लेकिन उन्होंने इस बात को कभी नहीं समझा कि भगवान सिर्फ एक ही होता है और जो भगवान करता है वो कोई और नहीं कर सकता.”

पढ़ें:- इंग्लिश कमेंटेटर ने सीन एबोट की वापसी पर याद दिलाई फिल ह्यूज की मौत, भड़के फैन्‍स ने बोले- इसे…

भारत और बांग्लादेश के बीच गुरुवार रात को खेले गया मैच रोहित के करियर का 100वां अंतारराष्ट्रीय मैच था. रोहित मैच के बाद चहल टीवी पर आए जहां भारत के ही लेग स्पिनर युजवेंद्र चहल ने उनसे बात की.

“मैंने जब लगातार तीन छक्के मारे तो मैं एक और मारने के लिए गया. लेकिन मैं चौथे पर चूक गया. मैंने फैसला किया कि मैं एक रन लूंगा. आपको बड़े छक्के मारने के लिए भारी भरकम शरीर नहीं चाहिए. आप (चहल) भी छक्के मार सकते हो. ताकत की जरूरत नहीं है, बल्कि आपको टाइमिंग की जरूरत है. गेंद को बल्ले के बीच में लगना चाहिए और आपका सिर स्थिर रहना चाहिए.”