मौजूदा समय में जसप्रीत बुमराह (Jasprit Bumrah), मोहम्‍मद शमी (Mohammad Shami), इशांत शर्मा (Ishant Sharma) भारतीय तेज बैट्री की रीढ़ की हड्डी है. इस तिकड़ी को विश्‍व क्रिकेट में आला दर्जे का गेंदबाजी अटैक माना जाता है, लेकिन हमेशा से ही भारत का तेज गेंदबाजी क्रम इतना मजबूत नहीं रहा है. पूर्व बल्‍लेबाज वीवीएस लक्ष्‍मण (VVS Laxman) का माना है कि भारतीय तेज गेंदबाजी में क्रांति लाने का काम जवगल श्रीनाथ (Javagal Srinath) ने किया था. Also Read - गावस्कर ने नासिर हुसैन को लताड़ लगाई; कहा- वो 70-80 के दशक की टीम इंडिया के बारे में जानते क्या है?

वीवीएस लक्ष्मण (VVS Laxman) ने ट्वीट करते हुए लिखा, “मैसूर से निकला बेहतरीन तेज गेंदबाज जिन्होंने भारतीय गेंदबाजी में क्रांति ला दी. साथ न देने वाली स्थिति में भी उन्होंने हमेशा टीम की जरूरतों को पूरा किया. श्रीनाथ की ताकत विपरीत परिस्थितियों में भी अच्छा करने की भूख है.” Also Read - भारतीय पेसर के ‘शिकंजे’ में फंसी दिशा पटानी, जब कही थी दिल की बात !

श्रीनाथ ने अक्टूबर-1991 में पाकिस्तान के खिलाफ वनडे में टीम इंडिया में अपना डेब्‍यू किया था. वह भारत के लिए 67 टेस्ट मैच और 229 वनडे मैचे खेले. इन दोनों प्रारूपों में उन्होंने क्रमश: 236 और 315 विकेट लिए. Also Read - मौजूदा भारतीय टेस्ट टीम में से इन 5 खिलाड़ियों को अपनी टीम में रखना पसंद करेंगे सौरव गांगुली, बताई वजह

वीवीएस लक्ष्मण इस समय उन खिलाड़ियों को याद कर रहे हैं जिनके साथ वो खेले हैं और जिन्होंने उनपर प्रभाव डाला है. श्रीनाथ से पहले वह इसी क्रम में सचिन तेंदुलकर, सौरव गांगुली, राहुल द्रविड़ और अनिल कुंबले को याद कर चुके हैं.