नई दिल्लीः भारत के दिग्गज बल्लेबाज वीवीएस लक्ष्मण का मानना है कि ऋषभ पंत का आक्रामक खेल चौथे स्थान पर उनके काम नहीं आ रहा है और यह युवा विकेटकीपर बल्लेबाज बल्लेबाजी क्रम में नीचे आकर अपनी फार्म दोबारा हासिल कर सकता है. पंत का रवैया पिछले कुछ समय से बहस का विषय रहा है. यहां तक कि मुख्य कोच रवि शास्त्री ने भी कहा कि कुछ मौकों पर इस युवा क्रिकेटर का शाट चयन निराशाजनक रहा है.

रोहित शर्मा की पत्नी रितिका ने चहल को फैमिली फोटो से हटाया, लेग स्पिनर ने पूछा आखिरकार क्यों..

लक्ष्मण ने कहा कि पंत की समस्या का समाधान इतना सामान्य भी हो सकता है कि वह बल्लेबाजी क्रम में नीचे आएं. लक्ष्मण ने ‘स्टार स्पोर्ट्स’ से कहा, ‘‘ऋषभ पंत की बल्लेबाजी की प्रकृति यह है कि वह हमेशा आक्रामक खेल खेलता है… दुर्भाग्यवश अंतरराष्ट्रीय स्तर पर वह चौथे नंबर पर सफल नहीं हो पाया.’’

अपने करियर को लेकर धोनी ने लिया चौंकाने वाला फैसला, BCCI को दी ये जानकारी

उन्होंने कहा, ‘‘पंत को पांचवें और छठे नंबर पर बल्लेबाजी करनी चाहिए जहां आपके पास खुद को जाहिर करने का मौका होता है और फिलहाल उसे नहीं पता कि चौथे नंबर पर रन बनाने का सही तरीका क्या है.’’ लक्ष्मण ने कहा कि इस 21 साल के खिलाड़ी पर अधिक दबाव नहीं बनाया जाना चाहिए क्योंकि प्रत्येक खिलाड़ी कभी ना कभी बुरे दौर से गुजरता है.

INDvSA: जब बैटिंग के लिए एक साथ क्रीज पर जाने लगे पंत और अय्यर, उलझन में पड़ गई टीम इंडिया

लक्ष्मण ने कहा, ‘‘सभी खिलाड़ी इस दौर से गुजरते हैं, उसका स्वाभाविक खेल स्वच्छंद होकर खेलना है लेकिन अचानक उसे पहले जैसे नतीजे नहीं मिल रहे (जैसे उसे आईपीएल में दिल्ली फ्रेंचाइजी के साथ मिले).’’ उन्होंने कहा, ‘‘वह बेहतर बनने और अपने खेल में कुछ और आयाम जोड़ने का प्रयास कर रहा है, जैसे पिछले मैच में हमने देखा कि वह स्ट्राइक रोटेट कर रहा था लेकिन दुर्भाग्य से पारी की शुरुआत में उसका शाट चयन बहुत अच्छा नहीं है.’’

पूर्व भारतीय क्रिकेटर माधव आप्टे का मुंबई के अस्पताल में निधन

लक्ष्मण ने कहा कि फिलहाल चौथे नंबर पर श्रेयस अय्यर और हार्दिक पंड्या बेहतर विकल्प नजर आते हैं. उन्होंने कहा, ‘‘चौथे नंबर पर बल्लेबाजी करने के लिए अन्य लोग भी हैं जैसे हार्दिक पंड्या और श्रेयस अय्यर, जो अनुभवी हैं और उसके स्थान पर खेल सकते हैं.’’ पंत का बचाव करते हुए लक्ष्मण ने कहा कि महान खिलाड़ी महेंद्र सिंह धोनी का उत्तराधिकारी कहे जाने से भी इस विकेटकीपर बल्लेबाज पर दबाव बढ़ा है.

उन्होंने कहा, ‘‘उस पर काफी दबाव है क्योंकि वह महेंद्र सिंह धोनी की जगह ले रहा है जिन्होंने भारतीय क्रिकेट के लिए काफी कुछ किया है. उसका मनोबल वापस लाने के लिए टीम प्रबंधन को उसे पांचवें या छठे नंबर पर खिलाने की जरूरत है.’’