ICC World Cup 2019 : पाकिस्तान क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान वकार यूनुस (Waqar Younis) का मानना है कि सरफराज अहमद (Sarfaraz Ahmed) और उनकी टीम 1992 के खिताबी सफलता को फिर से दोहरा सकती है. आईसीसी की वेबसाइट के लिए लिखे गए एक लेख में वकार ने कहा, ‘पाकिस्तान ने 27 साल पहले पहली बार विश्व कप जीता था और इस साल भी ऐसा ही लगता है, जैसा कि पहले किया गया था.’ उन्होंने कहा, “किसी ने हमें एक मौका नहीं दिया और विश्व कप में हम अंडरडॉग के रूप में पहुंचे थे. लेकिन हालात बदला और हमने खिताबी जीत हासिल की. यही पाकिस्तान क्रिकेट की खूबसूरती है.’ Also Read - वाहब रियाज से कार रेस के चक्‍कर में खड़े ट्रक से टकराई Shoaib Malik की कार !

Also Read - मोहम्मद आमिर को सिर्फ एक इनसान की वजह से संन्यास लेना पड़ा, यह दुखद: इंजमाम उल हक

सुरेश रैना का बड़ा बयान- धोनी अब भी ग्राउंड पर कप्तान के रोल में ही रहते हैं Also Read - कम उम्र में मेरे संन्यास की वजह मिस्बाह और वकार: मोहम्मद आमिर

पाकिस्तान टीम के कोच रह चुके वकार ने कहा, ‘मैं टीम का हिस्सा नहीं था क्योंकि वर्ल्ड कप शुरू होने से पहले मैं चोटिल हो गया था. लेकिन मुझे याद है कि जब टीम घर आ रही थी, तो पूरा देश सड़कों पर आ गया था, लाइटें जल रही थीं और हम ट्रॉफी के साथ परेड में थे.’ वकार यूनुस ने कहा, ‘यह पार्टी का समय था. यह एक उत्सव था. उम्मीद है कि ऐसा ही दोबारा होगा, लेकिन इसके लिए काम करना होगा.’ पाकिस्तान के लिए 262 वनडे मैचों में 416 विकेट ले चुके वकार ने कहा, ‘मुझे लगता है कि पाकिस्तान एक अंडरडॉग के रूप में वहां गया है और उन्हें अच्छी शुरुआत करने की जरूरत है. अगर वे शुरुआत में ज्यादातर मैच हारे, तो फिर इसके बाद उनके लिए आगे का काम मुश्किल हो जाएगा.’

विश्वकप 2019: पत्नियों के साथ नहीं रह सकेंगे पाक खिलाड़ी, PCB ने किया बैन

2017 में हुई चैंपियंस ट्रॉफी के बाद से पाकिस्तान ने दो सीरीज जीती है, जबकि तीन में उसे क्लीन स्वीप का सामना करना पड़ा है. वकार का मानना है कि पाकिस्तान को अपनी फील्डिंग में सुधार करनी होगी. उन्होंने कहा, ‘पाकिस्तान के लिए अच्छी बात यह है कि उसने बड़े स्कोर के साथ शुरुआत की है. उन्होंने दिखाया है कि वे 300 या उससे ज्यादा रन बनाने में सक्षम हैं और इंग्लैंड के खिलाफ सीरीज में हम यह देख चुके हैं.’