नई दिल्ली. वो कहते हैं न हाथ आए मौके को कभी गंवाना नहीं चाहिए.लेकिन, टीम इंडिया के ओपनिंग बल्लेबाज लोकेश राहुल को तो जैसे इसकी सूद ही नहीं है. उनके पास क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया XI के खिलाफ अभ्यास मैच में बेहतर प्रदर्शन कर मौका था एडिलेड टेस्ट के लिए चुनी जाने वाली भारतीय प्लेइंग इलेवन में जगह बनाने का. लेकिन, अब लगता है उन्होंने ये मौका गंवा दिया है. सिडनी क्रिकेट ग्राउंड पर खेले प्रैक्टिस मैच की पहली पारी में राहुल बड़ा स्कोर तो दूर दहाई के आंकड़े के पास भी नजर नहीं आए. उन्होंने 18 गेंदों पर सिर्फ 3 रन बनाए और पवेलियन लौट गए.

‘चौका’ वाली गेंद पर गंवाया ‘मौका’

प्रैक्टिस मैच में राहुल एक ऐसी गेंद पर आउट हुए जिस पर उन्हें मौका गंवाने की जगह चौका जड़ना चाहिए था.

वीडियो में देखिए कैसे राहुल तेज गेंदबाज कोलमैन की एक फुल लेंथ डिलीवरी को पिक करने में नाकाम रहे और मिड ऑफ पर खड़े फील्डर ब्रायन्ट को कैच थमा बैठे.

क्यों आउट हुए राहुल?

अब सवाल उठता है इस शॉट को खेलने में राहुल से चूक क्या हुई. तो इसका जवाब है टाइमिंग. राहुल इस गेंद पर शॉट थोड़ा जल्दी खेल गए जिस वजह से वो गेंद को सही दिशा नहीं दे पाए और कैच आउट हो गए. एक दूसरा ऑप्शन राहुल के पास इस गेंद को छोड़ने का भी था, जो कि एक बल्लेबाज के लिए टेस्ट क्रिकेट के पोपुलर नियमों में से एक है.

इस साल विदेशी दौरों पर फ्लॉप

साफ है ये सब राहुल के लंबे वक्त से जारी खराब फॉर्म का नतीजा है. राहुल इस साल भारत के 2 विदेशी दौरों पर बुरी तरह फ्लॉप रहे. साउथ अफ्रीका में खेली टेस्ट सीरीज के 2 मैचों में उन्होंने 7.50 की बेहद ही खराब औसत से सिर्फ 30 रन बनाए तो अगस्त-सितंबर के इंग्लैंड दौरे पर खेले 5 टेस्ट में 29.90 की मामूली औसत से वो सिर्फ 299 रन ही बना सके.

साल 2018 में फ्लॉप शो

राहुल कितने खराब फॉर्म में हैं ये साल 2018 में उनके ओवरऑल टेस्ट प्रदर्शन से भी पता चलता है. इस साल उन्होंने अब तक खेले 10 टेस्ट में 24.70 की मामूली औसत से केवल 420 रन ही बनाए हैं. हालांकि, इसके बावजूद भारतीय टीम मैनेजमेंट लगातार उठ रहे सवालों को नजरअंदाज करते हुए उनपर अपना भरोसा बनाए हुए हैं. लेकिन, ये भरोसा भी बगैर परफ़ॉर्मेन्स के कब तक कायम रहेगा.

मौका था चूक गए

राहुल के पास क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया XI के खिलाफ प्रैक्टिस मैच में फॉर्म हासिल कर बेहतर मौका था एडिलेड टेस्ट के लिए अपना दावा ठोकने और आलोचकों को जवाब देने का. लेकिन जिस तरह से वो प्रैक्टिस मैच में फेल रहे उसे देखकर तो लगता है कि फिलहाल वो बेंच पर ही बैठेंगे और मुरली विजय के साथ शानदार प्रदर्शन करने वाले पृथ्वी शॉ एडिलेड टेस्ट में पारी की शुरुआत करेंगे.