नई दिल्ली. ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ तीसरे T20 में क्रुणाल पांड्या स्टार बनकर उभरे. सिडनी क्रिकेट ग्राउंड की रनों से भरी पिच पर ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाजों ने शुरुआत तो मिजाज के मुताबिक की. लेकिन, जब कोहली ने गेंद क्रुणाल की हाथों में थमाई तो कंगारुओं के स्कोर बोर्ड पर लगाम लगने में देर नहीं हुई. क्रुणाल ने 4 ओवर में न सिर्फ मेजबान टीम को 4 फटके दिए यानी कि विकेट चटकाए बल्कि ऐसा करते हुए एक नायाब रिकॉर्ड भी बना दिया. Also Read - क्रिकेट छोड़ हार्दिक पांड्या ने थामा माइक, कोरोना काल में देश को एकजुट रखने के लिए गाया ये गाना !

क्रुणाल के नाम कमाल का रिकॉर्ड Also Read - Hardik-Krunal की 'तेरी मिट्टी में मिल जावां' गाने पर ये परफॉर्मेंस कर देगी आपके रोंगटे खड़े

4 ओवर में 36 रन देकर 4 ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाजों को अपना शिकार बनाने वाले क्रुणाल इस बेहतरीन प्रदर्शन के बाद अब न सिर्फ T20 क्रिकेट में कंगारुओं की सरजमीं में सबसे सफल भारतीय गेंदबाज बन गए हैं बल्कि ऐसा करते हुए वो ऑस्ट्रेलिया में खेले इंटरनेशनल T20 में 4 विकेट लेने वाले दुनिया के पहले स्पिनर भी बन गए हैं. इस दमदार प्रदर्शन के लिए पाड्या को मैन ऑफ द मैच का अवार्ड भी दिया गया. Also Read - पांड्या बंधुओं' की 9 साल पुरानी फोटो देख श्रेयस अय्यर ने कहा 'करन-अर्जुन' तो शिखर धवन बोले-जबरदस्त

क्रुणाल ने शॉर्ट, मैक्सवेल, डरमॉट और कैरी का विकेट लिया. रोहित शर्मा ने एरॉन फिंच का कैच न टपकाया होता तो क्रुणाल के विकेटों के इस फेहरिस्त में उनका भी नाम शामिल होता, जो बाद में कुलदीप यादव का शिकार बने. 


‘अच्छा’ और ‘खराब’ दोनों रिकॉर्ड पर लिखा नाम

कमाल की बात ये है कि ऑस्ट्रेलिया में खेले इंटरनेशनल T20 में अगर 4 ओवर में 36 रन देकर 4 विकेट किसी स्पिनर का बेस्ट फीगर है तो सबसे खराब फीगर का रिकॉर्ड भी क्रुणाल के नाम ही दर्ज है. क्रुणाल ने ब्रिसबेन में इसी T20 सीरीज के पहले मैच में 4 ओवर में 55 रन लुटाए थे और उन्हें कोई विकेट नहीं मिला था.

इस वजह से मिली सफलता

सिडनी T20 में क्रुणाल को सफलता उनके वैरिएशन की वजह से मिली. उन्होंने अपनी पेस में बड़ी चालाकी से वैरिएशन किया. उनकी सबसे धीमी और सबसे तेज गेंद की स्पीड में करीब 30 किलोमीटर प्रति घंटे का अंतर रहा. जबकि, उनकी गेंदों की औसत स्पीड 91.2 किलोमीटर प्रति घंटे रही.