नई दिल्ली. क्रिकेट में कमाल करने को लेकर सचिन तेंदुलकर के बेटे अर्जुन तेंदुलकर एक बार फिर सुर्खियों में हैं. 18 साल के अर्जुन तेंदुलकर ने टेस्ट क्रिकेट में अपना पहला शिकार किया है. ये सफलता उन्हें अंडर-19 क्रिकेट में मिली है. बता दें कि अर्जुन इस वक्त भारत की अंडर-19 टीम के साथ श्रीलंका दौरे पर हैं , जहां वो मेजबान टीम के साथ टेस्ट सीरीज खेल रहे हैं.

टेस्ट में अर्जुन तेंदुलकर को पहली सफलता

कोलंबो में श्रीलंका की अंडर 19 टीम के साथ खेले जा रहे 4 दिनी टेस्ट मैच में बाएं हाथ के तेज गेंदबाज अर्जुन तेंदुलकर ने श्रीलंका के सलामी बल्लेबाज मिश्रा को अपना पहला टेस्ट शिकार बनाया. जूनियर तेंदुलकर ने अपने दूसरे ओवर की आखिरी गेंद पर श्रीलंका बल्लेबाज मिश्रा को एलबीडब्ल्यू कर पवेलियन की राह पकड़ाई.

इससे पहले मुकाबले में भारतीय गेंदबाजी की शुरुआत भी अर्जुन ने ही की. पहले दिन के पहले सेशन में अर्जुन ने धारदार गेंदबाजी की नुमाइश की और श्रीलंकाई बल्लेबाजों पर दबाव बनाना शुरू किया, जिसका फायदा उन्हें मिला.

सीनियर भारतीय खिलाड़ियों से मिले टिप्स आए काम

भारत की अंडर-19 टीम के साथ श्रीलंका दौरे पर आने से पहले अर्जुन ने इंग्लैंड के लॉर्ड्स मैदान पर जमकर प्रैक्टिस की थी. प्रैक्टिस सेशन के दौरान इंग्लैंड के बल्लेबाज जॉनी बेस्टो का विकेट लेने के बाद वो सुर्खियों में आए थे. उन्होंने भारत के सीनियर गेंदबाजों और कोच रवि शास्त्री से भी श्रीलंकाई कंडीशन में गेंदबाजी करने को लेकर टिप्स हासिल किए थे.