कोविड-19 महामारी के बढ़ रहे प्रकोप को देखते हुए भारत सरकार ने देश में 21 दिन का लॉकडाउन किया है. इस समय विश्व की लगभग सभी खेल प्रतियोगिताएं या तो स्थगित कर दी गई हैं या उन्हें रद्द कर दिया गया है. खिलाड़ी इस समय अपने घरों में कैद होने को मजबूर हैं. भारत में इस वायरस से संक्रमित मरीजों की संख्या 650 के करीब पहुंच गई है जबकि 13 लोग इसकी चपेट में आकर अपनी जान गंवा चुके हैं. इस वैश्विक महामारी के कारण दुनिया में लगभग 15 हजार से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है.Also Read - Monkeypox Disease: यौन संबंध बनाने से भी फैल सकता है 'मंकीपॉक्स' वायरस, विशेषज्ञों ने चेताया

खिलाड़ी भी इस समय अपनी फैमिली के साथ क्वालिटी टाइम बिता रहे हैं. दोस्तों में ‘कुल्चा’ के नाम से मशहूर लेग स्पिनर युजवेंद्र चहल अपने फैंस के लिए self-isolation में पिता के साथ एक फनी टिकटॉक वीडियो बनाया है. Also Read - युवा शिविर में बोले पीएम मोदी, भारत आज दुनिया की नई उम्मीद बनकर उभरा है

‘हिटमैन’ रोहित शर्मा ने बताया इस तरह से हो सकता है IPL 2020 का आयोजन Also Read - Viral Video: टिकटॉक बनाने के लिए पाकिस्तानी लड़की ने लगा दी जंगल में आग, फिर बोली- मुझे ये आग पीने दो | देखें ये वीडियो

चहल ने इस वीडियो को सोशल मीडिया टिवटर के अपने ऑफिशियल अकाउंट पर अपलोड किया है. इस 15 सेकेंड के वीडियो में पिता और पुत्र डांस करते हुए नजर आ रहे हैं. चहल ने कैप्शन लिखा है, ‘ मेरा पहला टिकटॉक वीडियो पिता के साथ. इस दौराना वीडियो में पिता चहल से पूछ रहे हैं कि बेटा तेरे रिजल्ट का क्या हुआ. इसपर चहल ने ऐसा जवाब दिया जिसे सुनकर आप भी अपनी हंसी नहीं रोक पाएंगे.

कोरोनावायरस के कारण भारत दौरे पर तीन मैचों की वनडे सीरीज खेलने आई दक्षिण अफ्रीकी टीम दौरा बीच में ही छोड़कर स्वदेश लौट गई। सीरीज का पहला वनडे बारिश की भेंट चढ़ गया था जबकि बाद के दो वनडे बिना खेले रद् हो गए थे. टीम इंडिया के खिलाड़ियों को 29 अप्रैल में देश में इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में खेलना था लेकिन उसे कोविड-19 के कारण 15 अप्रैल तक के लिए स्थगित कर दिया गया है.

‘सिक्सर किंग’ युवराज सिंह अपनी बायोपिक में इस एक्टर को देखना चाहते हैं, नाम सुनकर हो जाएंगे हैरान

भारत सरकार ने कोरोना के कहर से लोगों को बचाने के लिए गुरुवार को 70 जहार करोड़ रुपये के पैकेज की भी घोषणा की है। जिससे कि देश का गरीब इस बड़े संकट का सामना कर सके.