अपनी आक्रामक बल्लेबाजी शैली और स्पिन गेंदबाजों के खिलाफ आसानी से बड़े शॉट लगाने की क्षमता के चलते युवा विकेटकीपर बल्लेबाज रिषभ पंत (Rishabh Pant) की तुलना अक्सर पूर्व दिग्गज वीरेंदर सहवाग (Virender Sehwag) से होती रही है। ऐसे में जब पाकिस्तान के पूर्व कप्तान इंजमाम उल हक (Inzamam ul Haq) ने पंत की बल्लेबाजी को ‘बाएं हाथ के सहवाग को बल्लेबाजी करते देखने’ जैसा कहा तो शायद ही किसी को हैरानी हुई हो। Also Read - IPL 2021, Rajasthan Royals vs Delhi Capitals: मैंने सोचा कि अब मुश्किल होगी, प्रार्थना कर रहा था कि Chris Morris तुम एक छक्का और मार दो: Sanju Samson

पूर्व पाक दिग्गज ने अपने यू-ट्यूब चैन पर पोस्ट किए वीडियो में कहा, “रिषभ पंत, बेहद शानदार। काफी लंबे समय के बाद मैंने ऐसे खिलाड़ी को देखा है जिस पर दबाव का कोई असर नहीं पड़ता। अगर 146 रन पर 6 विकेट भी गिर गए हैं तो जैसे वो पारी की शुरुआत करेगा, कोई और नहीं कर सकता। वो अपने शॉट्स खेलेगा, चाहे पिच कैसी भी हो या विपक्षी टीम ने कितने भी रन बनाए हों। वो स्पिन और तेज गेंदबाजों के खिलाफ समान रूप से अच्छा है। मैं उसे बल्लेबाजी करते देखना पसंद करता हूं, ये बाएं हाथ के सहवाग को खेलते देखने जैसा है।” Also Read - IPL 2021, Rajasthan Royals vs Delhi Capitals: कप्तान रिषभ पंत ने स्वीकारी गलती, कहा- अंत में हम बेहतर गेंदबाजी कर सकते थे

पूर्व क्रिकेटर ने कहा, “मैं सहवाग के साथ खेला हूं और उसे भी बाकी चीजों से फर्क नहीं पड़ता था। जब हम बल्लेबाजी करते थे तो इस बाक से फर्क नहीं पड़ता था कि पिच कैसी है या फिर विपक्षी टीम का गेंदबाजी अटैक कैसा था। उसे केवल अपने स्ट्रोक्स खेलता था, चाहे बाउंड्री पर फील्डर ही क्यों ना हो। सहवाग के बाद, पहली बार ऐसा खिलाड़ी देखा है जिसे बाकी चीजों से कोई फर्क नहीं पड़ता।” Also Read - IPL 2021, RR vs DC: राजस्थान के सबसे महंगे खिलाड़ी ने किया कमाल; छक्का लगाकर मॉरिस ने राजस्थान को दिलाई जीत

इंजमाम ने आगे कहा, “ऐसा नहीं कि वो केवल भारत में ऐसा करता है, उसने ऑस्ट्रेलिया में भी यही किया था। उसे शतक बनाने के मौका नहीं मिलते क्योंकि वो अपनी गति से खेलता है। काफी लंबे समय के बाद मैंने ऐसा खिलाड़ी देखा है। भारत के पास सचिन, द्रविड़ थे और अब उनके पास विराट और रोहित हैं। लेकिन जिस तरह वो खेलता है, वो शानदार है। इस तरह का आत्मविश्वास अविश्वसनीय है। मैंने क्रिकेट में अब तक उसके जैसा खिलाड़ी नहीं देखा है।”