साकेत कुमार Also Read - Shardul Thakur ने बताई आपबीती, मेरे साथ स्‍लेजिंग का प्रयास किया जाता रहा, एक-दो बार तो मैंने...

दिल्ली. हारकर जीतने वाले को बाजीगर कहते हैं, ये सुना तो है लेकिन साउथ अफ्रीका के तेज गेंदबाज कैसिगो रबाडा इस जुमले को सच कर दिखाने को बेताब दिख रहे हैं. दरअसल, वनडे सीरीज में मेजबान दक्षिण अफ्रीकी टीम टीम इंडिया के खिलाफ 0-2 से पीछे चल रही है. डिविलियर्स, डूप्लेसिस और डिकॉक जैसे बड़े खिलाड़ियों की गैरमौजूदगी में केपटाउन में खेले जाने वाले तीसरे वनडे में भी उस पर हार का खतरा मंडरा रहा है. बावजूद इसके रबाडा सीरीज में वापसी का दम भर रहे हैं. Also Read - वीरेंद्र सहवाग ने अपने ही अंदाज में की शार्दुल-सुंदर की तारीफ, वीवीएस ने कही ये बात

रबाडा के मुताबिक, ” खेल में हार जीत लगी रहती है. सीरीज में हमारे लिए अभी सबकुछ खत्म नहीं हुआ. बाजी कभी भी पलट सकती है.” Also Read - ऑस्‍ट्रेलिया के लिए बेहद अशुभ है 33 रन की बढ़त लेने का नंबर, जानें क्‍या कहता है इतिहास

इसे कहते हैं रस्सी जल गई पर बल नहीं गया. वनडे सीरीज में साउथ अफ्रीका का प्रदर्शन अब तक टीम इंडिया के आसपास भी नहीं दिखा है. प्रोटियाज बल्लेबाजों के लिए कुलदीप और चहल की स्पिन जोड़ी से पार पाना लोहे के चने चबाने जैसा साबित हो रहा है. वहीं, उनकी गेंदबाजी का भी पहले दो वनडे में भारतीय बल्लेबाजों ने जो हश्र किया है, किसी से छिपा नहीं है. ऐसे में रबाडा कैसे सीरीज में वापसी करेंगे ये तो सिर्फ वहीं बता सकते हैं.

रबाडा के मुताबिक , ” क्रिकेट में कभी भी कुछ भी हो सकता है. हमें बस अपनी गलतियों का अंदाजा लगाना होगा. इसमें कोई शक नहीं कि भारत मजबूत टीम है. उसका प्रदर्शन ऑस्ट्रेलिया में भी शानदार रहा है. वहीं, चैम्पियंस ट्रॉफी के बाद से ही हम उतना बेहतर परफॉर्म नहीं कर पा रहे. फिर भी सीरीज में कमबैक की हमारी पूरी कोशिश है.”

रबाडा एक तरफ टीम इंडिया को मजबूत आंक रहे हैं और दूसरी ओर वापसी की बात भी कर रहे हैं. इन दोनों बातों से साफ है कि ये बस हार से हताश अपनी टीम का हौसला बढ़ाने से ज्यादा और कुछ नहीं है. और अगर सीरीज में कमबैक की रबाडा की बातों में वाकई दम है तो जाहिर है कि केपटाउन वनडे में पूरी प्रोटियाज टीम का ये दम दिखना भी चाहिए. यानी, एक और बड़ी जीत की ओर विराट एंड कंपनी को अपने कदम बढ़ाने होंगे लेकिन थोड़ा संभलकर.