भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच होने वाले चौथे टेस्ट मैच से पहले मेजबान टीम के कप्तान टिम पेन (Tim Paine) ने कहा है कि दिग्गज क्रिकेटर सुनील गावस्कर (Sunil Gavaskar) के किसी बयान से उन्हें फर्क नहीं पड़ता। ऑस्ट्रेलियाई कप्तान ने कहा कि पूर्व भारतीय बल्लेबाज अपने विचार रखने के लिए स्वतंत्र हैं लेकिन वो उनके साथ बहस नहीं करेंगे। Also Read - स्टीव स्मिथ के स्पिन गेंदबाजों के खिलाफ आउट ना होने के रिकॉर्ड को बदलना चाहता था: अश्विन

पेन ने ये बात गावस्कर के उस बयान के जवाब में कही जिसमें पूर्व क्रिकेटर ने कहा था कि ऑस्ट्रेलियाई कप्तान की घबराहट उनकी कप्तानी में दिख रही थी। गावस्कर ने कहा कि पिछले टेस्ट में पेन घबराए हुए थे और इसका असर उनके द्वारा गेंदबाजी में बदलाव और फील्डिंग में दिख रह था। Also Read - कप्तान अजिंक्य रहाणे के पूछने पर गाबा टेस्ट में चोट के साथ गेंदबाजी को तैयार थे नवदीप सैनी

पेन ने कहा, “मैं सुनील गावस्कर के साथ इस चीज में नहीं पड़ने वाला हूं। वो अपने विचार रखने के लिए स्वतंत्र हैं। इससे हमें फर्क नहीं पड़ता। गावस्कर जो चाहें वो कह सकते हैं। मुझे इसमें कुछ नहीं कहना। एक कप्तान का क्रिकेट के अलावा कुछ और चीजों पर बात करना सही नहीं हैं.. जब आप कुछ और चीज के बारे में बात करते हैं तो यह बताता है कि आप घबराए हुए हैं। यह बताता है कि आप विपक्षी टीम द्वारा दी जा रही प्रतिस्पर्धा को संभाल नहीं पा रहे हो।” Also Read - ऑलराउंडर की भूमिका में रवींद्र जडेजा का आगे बढ़ना भारत के लिए बहुत बड़ा बोनस: भरत अरुण

पूर्व भारतीय कप्तान ने कहा, “आखिर में भारत मैच बचाने में कामयाब रहा। अश्विन, पेन पर हावी रहे। मैं आस्ट्रेलियाई चयनकर्ता नहीं हूं, लेकिन कप्तान के तौर पर उनके दिन गिने चुने हैं। अगर आप भारतीय टीम को 130 ओवर बिना विकेट लिए बल्लेबाजी करने देते हैं, वो भी तब जब ये आस्ट्रेलियाई आक्रमण शानदार है, तो आपके फील्ड प्लेसमेंट और गेंदबाजी बदलाव में कमी है।”