टीम इंडिया के नए कोच रवि शास्त्री को चुनने वाली क्रिकेट अडवायजरी कमिटी (सीएसी) के सदस्य सौरव गांगुली ने कहा है कि हम तीनों (सचिन, लक्ष्मण) ने एकमत से शास्त्री को कोच चुना. इससे पहले मीडिया में इस तरह की खबरें आ रही थी कि गांगुली शास्त्री को कोच बनाए जाने पर सहमत नहीं थे. लेकिन गांगुली ने इन अटकलों को खारिज करते हुए कहा, ‘हमने विराट के साथ बातचीत के बाद इस पद के लिए सर्वश्रेष्ठ व्यक्ति चुना है.’ गांगुली ने शास्त्री को लेकर सीएसी के सदस्यों के बीच मतभेद की बातों को नकारते हुए कहा, ‘नहीं, नहीं, ये एकमत था.’ Also Read - IPL 2021: MS Dhoni और Rishabh Pant की टक्कर, कोच रवि शास्त्री ने कही यह बात

शास्त्री को कोच चुनने के अलावा सीएसी ने जहीर खान को गेंदबाजी कोच और राहुल द्रविड़ को विदेशी दौरों के लिए बल्लेबाजी कोच नियुक्त किया है. जहीर और द्रविड़ के चुनाव पर गांगुली ने कहा, उनसे (शास्त्री) सचिन ने सलाह ली थी. इसीलिए हमने थोड़ा समय मांगा था. Also Read - भारतीय टीम में है अधिक बर्दाश्‍त करने की शक्ति, Sourav Ganguly ने ऑस्‍ट्रेलिया के इस हालिया प्रकरण की दिलाई याद

टीम इंडिया का नया कोच बनने की रेस में शास्त्री ने वीरेंद्र सहवाग, टॉम मूडी, रिचर्ड पायबस और लालचंद राजपूत जैसे दावेदारों को पीछे छोड़ा. वह इससे पहले 2014 से 2016 टी20 वर्ल्ड कप टीम डायरेक्टर रहे थे. शास्त्री ने बीसीसीआई द्वारा पहली बार इस पद के लिए आवेदन मांगे जाने पर अप्लाई नहीं किया था लेकिन कुंबले के कोच पद से इस्तीफे के बाद बीसीसीआई द्वारा फिर से कोच पद के लिए आवेदन मंगवाए जाने पर शास्त्री ने आवेदन किया और वह कोच बन भी गए. उन्हें कप्तान विराट कोहली की पहली पसंद माना जाता है. (टीम इंडिया के नए कोच रवि शास्त्री पर ‘कंट्रोल’ के लिए ये है सौरव गांगुली का ‘मास्टरस्ट्रोक’?) Also Read - Sourav Ganguly का बड़ा बयान, बोले- कप्तानी से हटाने के बाद टीम से बाहर होना 'सबसे बड़ा झटका'

उधर सुप्रीम कोर्ट द्वारा नियुक्त बीसीसीआई की प्रशासकों की समिति (सीओए) ने सीएसी द्वारा कोच के चुनाव को प्रभावशाली करार दिया है. सीओए 15 जुलाई को होने वाली अपनी बैठक में सीएसी के सिफारिशों की पुष्टि करेगा. (रवि शास्त्री बने टीम इंडिया के नए कोच, जानिए अब तक के भारतीय कोचों का इतिहास)