नई दिल्ली. इंग्लैंड पर मिली जीत के बाद वेस्टइंडीज की चौतरफा तारीफ हो रही है. हर कोई कैरेबियाई टीम की कामयाबी और उसके खिलाड़ियों के दमदार परफॉर्मेन्स की बात कर रहा है. इंग्लैंड पर किए धमाके की गूंज से बारबाडोस की प्रधानमंत्री मिया मॉटले भी अछूती नहीं हैं. उन्होंने इस बड़ी जीत का स्वागत कैरेबियाई कप्तान जेसन होल्डर से हाथ मिलाकर नहीं बल्कि उन्हें गले से लगाकर किया है.Also Read - ICC Test Championship Points Table: श्रीलंका ने जमाया शीर्ष पर कब्जा, तीसरे पायदान पर टीम इंडिया

वेस्टइंडीज से नहीं ‘बारबाडोस’ से हारा इंग्लैंड Also Read - CWI ने दिए संकेत, जानिए Chris Gayle कब खेलेंगे अंतिम अंतर्राष्ट्रीय मैच?

Also Read - कोविड-19 के नए वेरियंट की वजह से ICC ने रद्द किया महिला विश्व कप क्वालिफायर

बारबाडोस की प्रधानमंत्री के खुश होने की वजह कैरेबियाई टीम की कामयाबी तो है ही लेकिन उससे भी ज्यादा इस कामयाबी में बारबाडोस के 5 खिलाड़ियों का अहम योगदान है. वेस्टइंडीज को जिस कप्तान यानी कि जेसन होल्डर की कमान में इंग्लैंड पर शानदार जीत मिली वो बारबाडोस में जन्मा है. होल्डर ने शानदार दोहरा शतक जमाया, जिससे उनकी टीम मैच पर पकड़ बनाने में कामयाब रही. पहली पारी में अगर केमर रोच ने अपनी रफ्तार से इंग्लैंड के बल्लेबाजों की कमर तोड़ी तो दूसरी पारी में रॉस्टन चेज ने उनके 8 बल्लेबाजों के दांत खट्टे किए. इसके अलावा होप की बल्लेबाजी और होल्डर के साथ डाउरिच की साझेदारी को भी नजरअंदाज नहीं किया जा सकता. साफ है ये वो तमाम वजह रहे जिसने बारबाडोस की प्रधानमंत्री को मुस्कुराने का मौका दिया.

इंग्लैंड को धूल चटाकर वेस्टइंडीज बोला, ले लिया ‘अपमान’ का बदला

कैरेबियाई टीम का ‘विक्ट्री लैप’

प्रधानमंत्री से हौसलाआफजाई के बाद कैरेबियाई खिलाड़ियों ने मैदान पर उतरकर विक्ट्री लैप लगाया और अपने दर्शकों का अभिवादन स्वीकार किया.

बहरहाल, बारबाडोस में तो अंग्रेज बुरी तरह पिट गए लेकिन काम अभी अधूरा है और वो उसे अब होल्डर के नेतृत्व में कैरेबियाई टीम एंटीगा में पूरा करती दिखेगी.