नई दिल्ली: विश्व कप के सेमीफाइनल में बाहर होने के बाद वेस्टइंडीज दौरा भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली और रवि शास्त्री के लिए निर्णायक होगा. भले ही टूर्नामेंट के केवल एक मैच में टीम का प्रदर्शन खराब रहा हो, लेकिन शास्त्री का अनुबंध समाप्त होने वाला है और ऐसे में आगामी दौर पर टीम का प्रदर्शन बहुत महत्वपूर्ण होगा. Also Read - Virat-Anushka के घर आई नन्ही परी तो Amitabh Bachchan ने क्रिकेट टीम से निकाला गजब का कनेक्शन, देखें Tweet

Also Read - Fact Check: क्या यही है अनुष्का-विराट की बेटी की पहली तस्वीर, जानें वायरल फोटो का सच...

शास्त्री के मार्गदर्शन में टीम ने आस्ट्रेलिया, इंग्लैंड और दक्षिण अफ्रीका में शानदार प्रदर्शन किया है, लेकिन प्रशासकों की समिति (सीओए) द्वारा नियुक्त की गई क्रिकेट सलाहकार समिति (सीएसी) कोच के पद के लिए नए आवेदन स्वीकार कर रही है. आईएएनएस से बात करते हुए भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) के एक अधिकारी ने कहा कि मुख्य कोच और स्पोर्ट स्टाफ के लिए आवेदन आमंत्रित किए गए हैं जबकि टीम प्रबंधन को विश्व कप से भारत के बाहर होने के पर एक रिपोर्ट भी पेश करनी होगी. अधिकारी ने कहा कि न केवल प्रबंधक बल्कि प्रत्येक कोच से रिपोर्ट मांगी जानी चाहिए. फिजियो और ट्रेनर को भी अपनी रिपोर्ट देने के लिए कहा जाना चाहिए. रिपोर्ट यह जानने के लिए आवश्यक होगी कि विजय शंकर के चोटिल होने का पूरा प्रकरण क्या था. Also Read - Virat And Anushka Embrace Parenthood: माता-पिता बने अनुष्का और विराट,आलिया भट्ट से लेकर सचिन तक...सेलेब्स ने ऐसे दी बधाई

धोनी के संन्‍यास व चयन की अटकलों पर बोले सहवाग- चयनकर्ताओं को अपने प्लान्स बता देने चाहिए

नंबर-4 के सवाल का जवाब जरूरी

उन्होंने कहा कि बल्लेबाजी कोच (संजय बांगर) को नंबर-4 के सवाल का जवाब देना चाहिए क्योंकि यह स्पष्ट है कि टीम प्रबंधन ही था जो कुछ खिलाड़ियों को शामिल करने के लिए कह रहा था. उन्हें यह भी बताना होगा कि क्या उन्हें शंकर के चोटिल होने के बारे में जानकरी थी. पिछली बार शास्त्री के कोच बनाए जाने पर कोहली की राय ली गई थी, लेकिन इस बार ऐसा न होने की उम्मीद है.