नई दिल्ली. एंटीगा टेस्ट में मेजबान वेस्टइंडीज ने इंग्लैंड को 10 विकेट से हरा दिया. इस जीत के साथ ही 3 टेस्ट मैचों की सीरीज पर कैरेबियाई टीम ने 2-0 की अजेय बढ़त के साथ कब्जा कर लिया. एंटीगा से पहले वेस्टइंडीज ने बारबाडोस में खेले पहले टेस्ट में भी इंग्लैंड को 381 रन के बड़े अंतर से धूल चटाया था.

7 साल बाद किया ऐसा

एंटीगा में जीत के बाद वेस्टइंडीज ने बैक टू बैक सीरीज का दूसरा टेस्ट अपने नाम किया है. बांग्लादेश और जिम्बाब्वे की टीम को छोड़कर पिछली बार किसी बड़ी टीम के खिलाफ कैरेबियाई टीम ने लगातार 2 टेस्ट 2012 में न्यूजीलैंड के खिलाफ जीते थे.

मां की मौत की खबर सुनकर भी वेस्टइंडीज के लिए इंग्लैंड से लिया ‘लोहा’, वर्ल्ड क्रिकेट ने किया सलाम

इंग्लैंड की 300वीं हार

एंटीगा में मिली 10 विकेट से हार इंग्लैंड की टेस्ट क्रिकेट में 300वीं हार है. इतने ज्यादा टेस्ट मैच हारने वाली इंग्लैंड दुनिया की पहली टीम है. दोनों पारियों को मिलाकर इंग्लैंड ने एंटीगा टेस्ट में केवल 103.1 ओवर का सामना किया और अपने 20 विकेट खोकर दिए. इससे पहले 1986 में इंग्लैंड की टीम 88.2 ओवर में दो बार ऑल आउट हो गई थी, वो मुकाबला भी कैरेबियाई धरती पर ही किंग्सटन में खेला गया था.

इंग्लैंड ढेर, विंडीज शेर

एंटीगा टेस्ट में इंग्लैंड ती बल्लेबाजी का हाल कुछ ऐसा रहा कि पहली पारी में जहां उसने 93 रन पर अपने 6 विकेट खोए वहीं दूसरी पारी में 6 विकेट खोकर 96 रन बनाए. पहली पारी में जहां इंग्लैंड 187 रन पर ऑल आउट हो गया वहीं दूसरी पारी में 132 रन पर ही ढेर हो गई. मतलब ये कि दोनों में से किसी भी पारी में वो 200 की दहलीज नहीं लांघ सकी. इंग्लैंड के इस मंसूबे पर पानी फेरा वेस्टइंडीज के तेज गेंदबाज केमर रोच ने जिन्होंने मैच में कुल 8 विकेट लिए और मैन ऑफ द मैच बने.