नई दिल्ली. वैसे तो पंत धोनी को अपना आइडल मानते हैं. उन्हीं की तरह खुद को बनाना चाहते हैं. लेकिन जब बारी उनके जैसा कुछ कर दिखाने की आई तो वो बुरी तरह फ्लॉप हो गए. धोनी जैसा बनने के चक्कर में वो अपनी कीपिंग का फॉर्मूला भूल गए. नतीजा ये हुआ कि वो 3 भारी मिस्टेक मुकाबले में कर बैठे जिसके असर से टीम इंडिया को मैच गंवाना पड़ा. पंत के उन 3 मिस्टेक ने टीम इंडिया को कैसे हार के मुंह में धकेला और कैसे क्रिकेट फैंस को ये मानने पर मजबूर किया कि धोनी अब भी टीम इंडिया की बड़ी जरुरत हैं, देखिए 2 मिनट के इस वायरल वीडियो में. Also Read - SA vs ENG, 2nd T20I: इयोन मोर्गन ने Virat Kohli और MS Dhoni को पीछे छोड़ बनाया ये खास रिकॉर्ड

पंत ने पहली बड़ी गलती चहल की गेंद पर खतरनाक टर्नर की आसान स्टंपिंग को मिस कर किया. हालांकि, इसे गलती कम ब्लंडर ज्यादा कहेंगे. पंत की ये मिस्टेक कितनी बड़ी थी इसका अंदाजा फुटेज में कप्तान कोहली के चेहरे से भी लगाया जा सकता है. पंत ने दूसरी चूक भी चहल की ही गेंद पर की जब उन्होंने धोनी स्टाइल में बल्लेबाज को स्टंप करना चाहा. पर धोनी कर दिखाना इतना आसान थोड़े न है. नतीजा, ये हुआ कि विराट गुस्से से और भी आग बबूला हो गए. पंत ने तीसरी सबसे बड़ी गलती गलत DRS लेकर की. जितने कॉन्फिडेंस के साथ उन्होंने DRS के लिए इशारा किया कप्तान कोहली को भी उनके फैसले के साथ जाना पड़ा. लेकिन, नतीजा वही ढाक के तीन पात. अब तो विराट का गुस्सा सातवें आसमान पर था पर वो कर भी क्या सकते थे. क्योंकि, न तो वहां धोनी थे और DRS वो गंवा चुके थे.

चहल की बॉलिंग पर किए सभी मिस्टेक

कमाल की बात ये है कि पंत ने तीनों मिस्टेक अपनी कीपिंग के दौरान चहल की गेंदबाजी के दौरान किए. चहल ने मौके तो बनाए पर धोनी की तरह पंत उसे भुना नहीं सके. नतीजा, ये हुआ कि चहल न सिर्फ इस मुकाबले में महंगे साबित हुए बल्कि उन्हें विकेटलेस रहना पड़ा.

धोनी के होने के 2 बड़े फायदे

टीम इंडिया में धोनी का होना अभी भी क्यों जरूरी है अब जरा वो समझिए. एक तो उनके होने से विराट को DRS लेने में कोई परेशानी नहीं होती और दूसरा कुलदीप और चहल के विकेट निकालने का काम आसान हो जाता है.