कोरोनावायरस के कारण वर्ष का दूसरा ग्रैंड स्लैम फ्रेंच ओपन टेनिस टूर्नामेंट भले ही स्थगित कर दिया गया हो बावजूद इसके आयोजक विंबलडन चैंपियनशिप का आयोजन अब भी पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार टूर्नामेंट आयोजित करने की योजना बना रहे हैं. साल के तीसरे ग्रैंड स्लैम विंबलडन 29 जून से 12 जुलाई के बीच खेला जाना है लेकिन ऑल इंग्लैंड क्लब के प्रमुख इस बात से अच्छी तरह वाकिफ हैं कि इस घातक बीमारी से खेल कैलेंडर बुरी तरह प्रभावित है. Also Read - ...तो क्या Coronavirus बदल देगा क्रिकेट, टेनिस और फुटबॉल खिलाड़ियों की वर्षों पुरानी आदतें

कोरोनावायरस के कारण EURO 2020 फुटबॉल टूर्नामेंट 2021 तक स्थगित Also Read - विंबलडन प्रमुख रिचर्ड लुईस ने माना- हो सकता है साल भर ना हो पाए टेनिस का आयोजन

फ्रेंच ओपन के आयोजकों ने मंगलवार को घोषणा की कि यह क्लेकोर्ट टूर्नामेंट अब मई के बजाय सितंबर में आयोजित किया जाएगा.
वर्ष का दूसरा ग्रैंडस्लैम 24 मई से शुरू होना था लेकिन अब इसका आयोजन 20 सितंबर से चार अक्टूबर के बीच होगा. Also Read - विम्बलडन रद्द लेकिन US ओपन के आयोजन में नहीं होगा बदलाव

विंबलडन के आयोजकों को अब भी उम्मीद है कि अगर वायरस का प्रकोप कम होता है तो यह ग्रास कोर्ट टूर्नामेंट सही समय पर शुरू होगा. ऑल इंग्लैंड लॉन टेनिस एंड क्रोकेट क्लब के मुख्य कार्यकारी रिचर्ड लुईस ने कहा है कि वे सार्वजनिक जीवन की सुरक्षा को प्राथमिकता देंगे.

लुइस ने कहा, ‘हमारे सदस्यों, स्टाफ और लोगों का स्वास्थ्य और सुरक्षा के प्रति प्रतिबद्धता हमारे फैसले का केंद्र बिंदु है. हम सरकार और सार्वजनिक स्वास्थ्य अधिकारियों के उनकी सलाह और सहयोग के लिए आभारी हैं. हम जबकि इस बार चैंपियनशिप के आयोजन की योजना बना रहे हैं तब भी हम व्यापक समाज के सर्वोत्तम हित में जिम्मेदारी से काम करेंगे.’

14 दिन तक आईसोलेशन में रहेंगे भारत दौरे से वापस आए दक्षिण अफ्रीकी क्रिकेटर

कोरोनावायरस के बढ़ते प्रकोप के कारण देश सहित विदेश में भी कई खेल प्रतियोगिताएं स्थगित कर दी गई हैं. इस वायरस से भारत में लगभग 150 लोग संक्रमित हैं जबकि इससे मरने वालों की संख्या तीन हो गई है. विदेश की बात करें तो लगभग दो लाख लोग इससे संक्रमित हैं वहीं आठ हजार से अधिक लोग अपनी जान गंवा चुके हैं.