भारत के लिए 8 वनडे इंटरनेशनल क्रिकेट मैच खेलने वाला यह पूर्व ऑलराउंडर बॉल टेंपरिंग मामले के बाद ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट की बदलाव की मुश्किल स्थिति का हिस्सा रहा है जिसमें खिलाड़ियों को निलंबित करने के साथ टीम के बर्ताव को सुधारने के लिए कड़े कदम उठाए गए थे. ऑस्ट्रेलियाई टीम के स्पिन गेंदबाजी कोच श्रीधरन श्रीराम का कहना है कि केपटाउन टेस्ट में गेंद से छेड़छाड़ प्रकरण के बाद कोच जस्टिन लैंगर के मार्गदर्शन और टिम पेन की अद्भुत कप्तानी के कारण एशेज सीरीज में सफलता मिली. Also Read - IPL 2021: कोलकाता नाइट राइडर्स के खिलाफ पहले मुकाबले के लिए तैयार हैं SRH स्पिनर राशिद खान

इस पूरी घटनाक्रम से जुड़ी वेब सीरीज ‘द टेस्ट’ के दो एपिसोड में श्रीराम की भूमिका दिखाई गई है. जिसके बारे में उन्होंने कहा कि इसमें सब कुछ वास्तविक है कुछ भी ऐसा नहीं है जिसे दोबारा फिल्माया गया हो. Also Read - IPL 2021, CSK vs DC: अर्धशतक जड़ रोहित-विराट की बराबरी पर आए Suresh Raina, डेविड वार्नर सबसे आगे

‘टीम इंडिया को वनडे में 5वें नंबर के लिए सुरेश रैना और युवराज सिंह जैसे बल्लेबाज की जरूरत’ Also Read - IPL 2021: रविवार को SRH की KKR से भिड़ंत, दोनों टीमों के इन 11 खिलाड़ियों पर होंगी नजरें...

टीम को हालांकि लैंगर के मार्गदर्शन और पेन के नेतृत्व की अद्भुद क्षमता का काफी फायदा हुआ.

श्रीराम ने कहा, ‘आप जो देख रहे है (वेबसीरीज) वह पूरी तरह से वास्तविक है. किसी भी चीज को दोबारा नहीं फिल्माया गया है. सभी विजुवल वास्तविक हैं.’ आठ एपिसोड की इस वेबसीरीज का मुख्य आकर्षण लैंगर के चेहरे की भावभंगिमा, कप्तान के तौर पर पेन की क्षमता का निखरना और स्टीव स्मिथ तथा डेविड वार्नर जैसे खिलाड़ियों का टीम से फिर से जुड़ना मुख्य आकर्षण है.

श्रीराम ने कहा, ‘मुझे लगता है कि केपटाउन से एशेज के अंत तक की यह हमारी (ऑस्ट्रेलियाई टीम की) यात्रा की एक शानदार कहानी है. मैं खुद को इसका हिस्सा होने पर बहुत भाग्यशाली मानता हूं.’

रैना दूसरी बार बने पिता, पत्नी प्रियंका ने दिया बेटे को जन्म, CSK ने कुछ इस अंदाज में दी बधाई

ऑस्ट्रेलियाई प्रणाली से जुड़ने के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा, ‘जैसा कि मैंने कहा, मैं इस यात्रा का हिस्सा बनने के लिए खुद को बहुत भाग्यशाली मानता हूं और यह लोगों के साथ काम करने का एक बड़ा समूह है.’