बर्मिंघम: रासी वान डेर डुसेन के अर्धशतक के दम पर दक्षिण अफ्रीका ने न्यूजीलैंड की अनुशासित गेंदबाजी के सामने विश्व कप के मैच में छह विकेट पर 241 रन बनाये. गीली आउटफील्ड के कारण मैच देर से शुरू हुआ और घटाकर 49 ओवर प्रति टीम कर दिया गया. न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियमसन ने टास जीतकर गेंदबाजी का फैसला लिया और उनके गेंदबाजों ने इसे काफी हद तक सही साबित कर दिखाया.

हाशिम अमला ने 55 रन बनाने के लिये 83 गेंद खेल डाली लेकिन वान डेर डुसेन ने अच्छी बल्लेबाजी करते हुए नाबाद 67 रन बनाये. पिछले विश्व कप की उपविजेता न्यूजीलैंड के गेंदबाजों ने मददगार विकेट पर काफी अनुशासित प्रदर्शन किया. ट्रेंट बोल्ट ने क्विंटोन डिकाक को महज पांच के निजी योग पर पवेलियन भेजकर दक्षिण अफ्रीका को पहला झटका दिया. अमला और कप्तान फाफ डु प्लेसी ने दक्षिण अफ्रीका को 14वें ओवर में एक विकेट पर 59 रन तक पहुंचाया. लोकी फर्ग्युसन ने शानदार यार्कर पर डु प्लेसी को 23 रन पर बोल्ड कर दिया. अमला और एडेन मार्कराम ने तीसरे विकेट के लिये 52 रन की साझेदारी की लेकिन बायें हाथ के स्पिनर मिशेल सेंटनेर ने अमला को बोल्ड करके इस साझेदारी को तोड़ा.

अमला अपनी पारी के दौरान वनडे क्रिकेट में 8000 रन पूरे करने वाले दक्षिण अफ्रीका के चौथे बल्लेबाज बन गए. वह भारत के कप्तान विराट कोहली (175 पारी) के बाद सबसे तेजी से (176 पारी) इस आंकड़े तक पहुंचे है. मार्कराम (38) को कोलिन डि ग्रांडहोमे ने कोलिन मुनरो के हाथों लपकवाया. इसके बाद डेविड मिलर (36) ने वान डेर डुसेन के साथ रनगति को बढाया. दक्षिण अफ्रीका को विश्व कप सेमीफाइनल में प्रवेश की उम्मीदें बरकरार रखने के लिये यह मैच हर हालत में जीतना होगा. पांच मैचों में महज एक जीतकर टीम दस टीमों में आठवें स्थान पर है जबकि शीर्ष चार टीमें ही सेमीफाइनल में जायेंगी. (इनपुट – एजेंसी)